राम मंदिर निर्माण हेतु जमीन की खरीद में घाटाले का आरोप, ED और CBI जांच की मांग

आप सांसद संजय सिंह ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि कोई कल्पना भी नहीं कर सकता कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के नाम पर भी कोई घोटाला और भ्रष्टाचार करने की हिम्मत करेगा।

अयोध्या। राम नगरी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण करा रहे श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे हैं। आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने आरोप लगाया कि चंपत राय ने दो करोड़ रुपए की जमीन को 18.5 करोड़ में खरीदकर बड़ा घोटाला किया है। उन्होंने इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई से जांच की मांग की है। उधर, चंपत राय ने आरोपों निराधार करार देते हुए कहा कि वह इस तरह के आरोपों से नहीं डरते और इसकी जांच कराएंगे।

राम मंदिर निर्माण

आप सांसद संजय सिंह ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि कोई कल्पना भी नहीं कर सकता कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के नाम पर भी कोई घोटाला और भ्रष्टाचार करने की हिम्मत करेगा। उन्होंने कहा कि ये कागज चिल्ला-चिल्ला कर कह रहे हैं कि ट्रस्ट के नाम पर चंपत राय जी ने करोड़ों रुपए की हेर-फेर की है।

संजय सिंह ने कहा कि अयोध्या सदर तहसील के बाग बिजैसी गांव में सुल्तान अंसारी और रवि मोहन तिवारी ने गत 18 मार्च को पांच करोड़ 80 लाख रुपये की मालियत वाली गाटा संख्या 243, 244 और 246 की जमीन दो करोड़ रुपए में खरीदी थी। आप सांसद ने कहा कि शाम सात बजकर 10 मिनट पर हुई इस जमीन खरीद में राम जन्मभूमि ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्रा और अयोध्या के मेयर ऋषिकेश उपाध्याय गवाह बने थे। (राम मंदिर निर्माण)

आप सांसद ने आरोप लगाया कि ठीक पांच मिनट बाद इसी जमीन को चंपत राय ने रवि मोहन तिवारी और सुल्तान अंसारी से साढ़े 18 करोड़ रुपए में खरीदा, जिसमें से 17 करोड़ रुपए आरटीजीएस के जरिए पेशगी के तौर पर दिए गए। उन्होंने ने कहा कि ताज्जुब है कि दो करोड़ रुपए की जमीन की कीमत प्रति सेकंड लगभग साढ़े पांच लाख रुपए की दर से बढ़ी।

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव और विश्व हिंदू परिषद के नेता चंपत राय ने आधिकारिक ब्यान जारी कर इन आरोपों का खंडन किया है। ट्रस्ट ने अभी तक जितनी जमीनें खरीदी हैं, वह खुले बाजार की कीमत से बहुत कम हैं। चंपत राय ने कहा है कि लोग राजनीतिक विद्वेष से प्रेरित होकर भ्रम फैला रहे हैं। (राम मंदिर निर्माण)

अयोध्या जमीन घोटाला : सीएम आवास पर महिला कांग्रेस का प्रदर्शन, धक्का-मुक्की, दर्जनों गिरफ्तार

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button