Kanpur Encounter: मुठभेड़ के आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

गुरुवार की देर रात कानपुर में विकास दुबे के साथ हुई मुठभेड़ के दौरान 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए। उसके उपरांत पूरा प्रदेश हिल गया और आरोपी की तलाश के लिए उत्तर प्रदेश को रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया। यहां सबसे खास बात यह है कि आरोपी कहीं किसी जनपद से बचकर न निकलने पाए इसके लिए सभी पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए गए कि वह लोग अपने क्षेत्र की सभी सीमाएं सील करते हुए आने जाने वाले सभी वाहनों की चेकिंग करें।

औरैया. गुरुवार की देर रात कानपुर में हुई बदमाशों के साथ पुलिस मुठभेड़ (Kanpur Encounter) में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए। जिसके बाद आरोपी की तलाश के लिए पूरा उत्तर प्रदेश रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया और सभी सीमाएं सील करते हुए आरोपियों की तलाश में पुलिस टीम जुट गई। जनपद में लगातार बढ़ रही अफवाह के चलते पुलिस प्रशासन भी परेशान नजर आया। जानकारी मिल रही है कि औरैया जनपद की सीमा में मुख्य आरोपी विकास दुबे का एनकाउंटर हो गया है। मगर अपर पुलिस अधीक्षक कमलेश दीक्षित ने इस बात को सिरे से खारिज कर दिया।आपको बताते चलें कि गुरुवार की देर रात कानपुर में विकास दुबे के साथ हुई मुठभेड़ (kanpur encounter)  के दौरान 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए। उसके उपरांत पूरा प्रदेश हिल गया और आरोपी की तलाश के लिए उत्तर प्रदेश को रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया। यहां सबसे खास बात यह है कि आरोपी कहीं किसी जनपद से बचकर न निकलने पाए इसके लिए सभी पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए गए कि वह लोग अपने क्षेत्र की सभी सीमाएं सील करते हुए आने जाने वाले सभी वाहनों की चेकिंग करें।

इसी के तहत जनपद के भी बॉर्डर समेत विभिन्न इलाकों में आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर के पुलिस प्रशासन अलर्ट दिखाई दिया गया। जनपद के भी बॉर्डर समेत विभिन्न इलाकों में आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर के पुलिस प्रशासन अलर्ट दिखाई दिया गया। SP सुनीति के निर्देश पर बिधूना, बेला, अजीतमल और एरवाकटरा जनपद की सीमाओं को सील करने के बाद सघन चेकिंग अभियान चलाया गया ।सड़क पर उतरी SP सुनीति के नेतृत्व में फोर्स ने ताबड़तोड़ हजारों वाहनों की चेकिंग करते हुए किसी भी वाहन को बिना चेक किए बिना न निकलने के निर्देश जारी कर दिए हैं। जनपद के मुख्य चेकिंग प्वाइंट पर की जहां पर भारी पुलिस फोर्स सघन चेकिंग अभियान चला रहा है।

अपर पुलिस अधीक्षक कमलेश दीक्षित ने मीडिया से बात करते हुए बताया है कि जनपद में वांछित अपराधियों को पकड़ने के लिए और अपराधियों का लेखा-जोखा तैयार किया जा रहा है और अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जा रही है। आपको बता दें कि औरैया जनपद 6 जनपदों की सीमाओं को टच करता है जिनमें कानपुर नगर, कानपुर देहात, इटावा, मैनपुरी, कन्नौज और जालौन जिला शामिल है।

इन सभी बॉर्डर पर पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद बनी हुई है। गौरतलब है कि कानपुर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंच चुके हैं और अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए उन्हें निर्देश दे रहे हैं। फिलहाल यह भी जानकारी मिली है कि मुख्य आरोपी विकास दुबे की फोन लोकेशन औरैया जिले में दिखाई दे रही है। यह जानकारी विभिन्न चैनलों पर प्रकाशित हो रही है। मगर इसकी पुष्टि किसी भी अधिकारी द्वारा नहीं की गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button