मुझ पर किया जाए कोरोना वैक्सीन का परीक्षण: डॉ. सुरेंद्र जैन

डॉ. जैन ने कहा, “कोरोना महामारी की चुनौती का सामना करने में आपके विश्वविद्यालय का बहुत योगदान रहा है। अब आपको कोरोना वैक्सीन के मानवीय परीक्षण करने का सौभाग्य मिला है। मैं, डॉ. सुरेंद्र जैन, अपने आपको इस वैक्सीन के मानवीय परीक्षण के लिए प्रस्तुत करता हूं। जब भी आप मुझे इस परीक्षण के लिए बुलाएंगे, मैं प्रस्तुत हो जाऊंगा। आशा है आप मुझे यह सौभाग्य अवश्य देंगे।”

नई दिल्ली. विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ. सुरेंद्र जैन ने कोरोना वैक्सीन के मानवीय परीक्षण के लिए खुद को प्रस्तुत करने का निवेदन किया है।कोरोना वैक्सीन पर कार्य कर रहे रोहतक स्थित पंडित भगवत दयाल शर्मा यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ एंड साइंसेज के कुलपति डॉ. OP कालड़ा को पत्र लिखकर डॉ. जैन ने कहा, “कोरोना महामारी की चुनौती का सामना करने में आपके विश्वविद्यालय का बहुत योगदान रहा है। अब आपको कोरोना वैक्सीन के मानवीय परीक्षण करने का सौभाग्य मिला है। मैं, डॉ. सुरेंद्र जैन, अपने आपको इस वैक्सीन के मानवीय परीक्षण के लिए प्रस्तुत करता हूं। जब भी आप मुझे इस परीक्षण के लिए बुलाएंगे, मैं प्रस्तुत हो जाऊंगा। आशा है आप मुझे यह सौभाग्य अवश्य देंगे।”

डॉ. जैन ने शनिवार को  कहा कि कोरोना वैक्सीन के मानवीय परीक्षण के लिए लोगों की भीड़ लग जानी चाहिए थी, लेकिन मैं ही पहला व्यक्ति हूं जिसने मानवीय परीक्षण के लिए खुद को आगे किया है। उन्होंने कहा कि वैश्विक संकट की इस घड़ी में कोरोना का वैक्सीन जल्द से जल्द तैयार होना बहुत आवश्यक है। डॉ. जैन ने इस वैक्सीन के मानवीय परीक्षण को सफल बनाने के लिए लोगों से आगे आने का आह्वान किया है।

डॉ. जैन के इस प्रस्ताव पर विहिप के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने कहा कि डॉ. जैन के साहस को नमन। जब सम्पूर्ण विश्व कोविड-19 के भय से ग्रस्त है, डॉ.जैन ने आज कोरोना वैक्सीन के मानवीय परीक्षण के लिए स्वयं को प्रस्तुत किया है। उल्लेखनीय है कि डॉ. जैन का आवास रोहतक के जगदीश कॉलोनी में है। वह रोहतक स्थित एलएन हिन्दू डिग्री कॉलेज के सेवानिवृत्त प्राचार्य हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button