कानपुर बिकरु कांड में दोषियों को ऐसी सजा मिलेगी जो मिसाल बनेगी: ADG प्रशांत कुमार

ADG ने कहा कि कानपुर के बिकरु कांड में फरार मोस्ट वांटेड अपराधी विकास दुबे की तलाश में यूपी पुलिस की 40 टीमे और यूपी STF लगी हुई है। इसी क्रम में आज बुधवार सुबह हमीरपुर के मौदहा थानाक्षेत्र में STF एवं स्थानीय पुलिस को कानपुर कांड के आरोपी मोस्ट वांटेड विकास दुबे के करीबी साथी अमर दुबे की लोकेशन मिली। जिस पर उसे घेर लिया गया। घेराबंदी देख वह भगने लगा।

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के कानून एवं व्यवस्था अपर पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार ने कहा कि कानपुर में शहीद हुए पुलिस कर्मियों की शहादत को व्यर्थ नहीं जाने देंगे। दोषियों को ऐसी सजा मिलेगी जो नजीर बनेगी।ADG ने कहा कि कानपुर के बिकरु कांड में फरार मोस्ट वांटेड अपराधी विकास दुबे की तलाश में यूपी पुलिस की 40 टीमे और यूपी STF लगी हुई है। इसी क्रम में आज बुधवार सुबह हमीरपुर के मौदहा थानाक्षेत्र में STF एवं स्थानीय पुलिस को कानपुर कांड के आरोपी मोस्ट वांटेड विकास दुबे के करीबी साथी अमर दुबे की लोकेशन मिली। जिस पर उसे घेर लिया गया। घेराबंदी देख वह भगने लगा। इस बीच उसने STF व पुलिस टीम पर फायरिंग भी की। जिसके बाद उसे मुठभेड़ में मार गया। अमर दुबे कुख्यात विकास दुबे गैंग का शातिर अपराधी है और कानपुर के बिकरु गांव में CO बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा, SO महेश यादव सहित आठ पुलिस कर्मियों की हत्या की वारदात में शामिल था और घटना के बाद से फरार हो गया था। पुलिस ने उस पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित कर सरगर्मी से तलाश में जुटी थी।
चौबेपुर पुलिस ने श्यामू बाजपेयी को भी मुठभेड़ में पकड़ा गया है। उस पर भी 50 हजार रुपये का भी इनाम है। मुठभेड़ में वह पुलिस की गोली से घायल हुआ है उसे पकड़ लिया गया है। उसके पास से पुलिस को तमंचा व असलहा बरामद हुआ हैं। ADG ने यह भी बताया कि श्यामू के साथ जहान यादव और संजीव दुबे भी पकड़े गए हैं। इन तीनों के पास से पुलिस की दो पिस्टल व 44 कारतूस बरामद हुये हैं। लूटी गयी एक पिस्टल शिवराजपुर थाना और बिठूर थाने की है। उन्होंने यह भी बताया कि अब केवल दो हथियार पुलिस के गायब है जिसमें इंसास और एके 47 अभी नहीं मिली है। कुल पांच वेपन पुलिस के गायब हुए थे। इसके अलावा  गौतमबुद्धनगर में एक्सप्रेस के बिसरखा थाना पुलिस ने भी एक इनामी बदमाश को पकड़ा है। बुलंदशहर श्यामना थाने में भी बदमाश ​पकड़े गए हैं। इन सभी से पूछताछ की जा रही हैं।

कानपुर के मास्टर माइंड के सम्पर्क में रहने वाले तीन लोगों को हरियाणा की फरीदाबाद पुलिस ने दबोचा है। पकड़े गए अभियुक्तों में प्रभात दुबे, अंकुर के अलावा ईश्वर मिश्रा को ​दबोचा है। सूत्रों की माने तो विकास कानपुर से भागने के बाद यहां पर रुका था। इनके पास से पुलिस को सरकारी​ पिस्टल थाना बिठूर, दो अन्य पिस्टल व हथियार बरामद किया है। इन बदमाशों को पुलिस कस्टडी रिमांड लेकर कानपुर आयेगी।

ADG ने बताया कि चौबेपुर थाने के तमाम पुलिस कर्मियों की विकास दुबे से संलिप्ता पाये जाने पर देर रात को कानपुर SSP के द्वारा लाइन हाजिर कर दिया गया है। सूत्रों की माने तो अभी कई और पुलिस कर्मियों पर गाज गिर सकती हैं।

हमीरपुर में मुठभेड़ में मारे गए इनामी बदमाश और कई बिन्दुओं पर ADG ने प्रेसवार्ता की। प्रेसवार्त के दौरान जब पत्रकारों ने मोस्ट वांटेड विकास दुबे के बारे में पूछा तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि अभी हम पुलिस की कार्रवाई को लेकर वार्ता कर रहे है जैसे-जैसे खुलासा होता रहेगा हम सब बतायेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button