मध्य प्रदेश: ब्रेक के बाद प्रदेश में मानसून की वापसी, चार जिलों के लिए अलर्ट जारी

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में उत्तर-पूर्वी मप्र. से मराठवाड़ा तक एक द्रोणिका लाइन बनी हुई है। इससे अरब सागर से नमी आ रही है। वही पश्चिम बंगाल के आसपास एक ऊपरी हवा का चक्रवात बन गया है। इसके प्रभाव से प्रदेश में बरसात की गतिविधियों में तेजी आएगी.

भोपाल. मध्य प्रदेश में मानसून ने 9 दिन के ब्रेक के बाद फिर से वापसी हो गई है। मौसम विभाग के मुताबिक एक बार फिर मानसून सक्रिय होने से अगले दो से तीन दिन में मध्य प्रदेश के कई इलाकों में भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। विभाग ने प्रदेश के चार जिलों के लिए अलर्ट भी जारी किया है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक जबलपुर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा और सिवनी में भारी बारिश के आसार हैं।
वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में उत्तर-पूर्वी मप्र. से मराठवाड़ा तक एक द्रोणिका लाइन बनी हुई है। इससे अरब सागर से नमी आ रही है। वही पश्चिम बंगाल के आसपास एक ऊपरी हवा का चक्रवात बन गया है। इसके प्रभाव से प्रदेश में बरसात की गतिविधियों में तेजी आएगी। विशेषकर उत्तरी मध्य प्रदेश में कहीं-कहीं अच्छी बरसात की भी संभावना है।
 
मौसम विभाग का कहना है पिछले साल 9 से 19 जुलाई तक बारिश नहीं हुई थी, बीते साल जुलाई के महीने में बारिश में लंबा ब्रेक हुआ था. इस बार भी जुलाई के शुरुआती दो हफ़्तों में ऐसा ही हुआ। मौसम विभाग का कहना है कि अब 3 से 4 दिनों तक लगातार बारिश होने के आसार हैं। मौसम विभाग का कहना है लोकल थंडरस्टॉर्म के कारण बारिश की झड़ी लगी है। इसी कारण राजधानी भोपाल के ज्यादातर हिस्से तरबतर हुए।
मौसम विभाग का अनुमान है कि प्रदेश भर में आने वाले 2 से 3 दिनों में तेज बारिश होने के आसार हैं। गरज चमक के साथ भारी बारिश की संभावना है। उसने 4 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट किया जारी है। जबलपुर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा और सिवनी में भारी बारिश के आसार हैं। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button