MP Board: आज कक्षा 12वीं का परीक्षा परिणाम घोषित, लड़कियों ने मारी बाजी

विद्यार्थी अपना परिणाम बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट्स mpbse.nic.in और mpresults.nic.in के साथ ही मोबाइल ऐप पर भी देख सकते हैं।

भोपाल. मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा सोमवार को दोपहर तीन बजे हायर सेकेण्डरी स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा, हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक पाठ्यक्रम एवं हायर सेकेण्डरी अंध-मूक-बधिर श्रेणी परीक्षा वर्ष 2020 के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिये गए। इस बार 12वीं का परीक्षा परिणाम 68.81 फीसदी रहा, जो पिछले साल की तुलना में करीब साढ़े तीन फीसदी कम है। हर साल की तरह इस बार भी छात्राओं ने बाजी मारी। जारी परिणाम के अनुसार नियमित विद्यार्थी का परीक्षा परिणाम 68.81 फीसदी रहा, जिसमें छात्राएं 73.40 फीसदी पास हुईं, जबकि 64.66 फीसदी छात्र सफल रहे। वहीं, प्राइवेट विद्यार्थियों का परीक्षा परिमाण 28.70 फीसदी रहा।

माध्यमिक शिक्षा मंडल के जनसम्पर्क अधिकारी एसके चौरसिया ने बताया कि इस बार कक्षा 12वीं में आठ लाख आठ हजार 992 विद्यार्थी शामिल हुए थे। विद्यार्थी अपना परिणाम बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट्स mpbse.nic.in और mpresults.nic.in के साथ ही मोबाइल ऐप पर भी देख सकते हैं। उन्होंने बताया कि इस साल परीक्षाओं पर कोरोना वायरस का असर पड़ा है।

बारहवीं की कुछ परीक्षाएं रद्द की गई थीं, जिन्हें लॉकडाउन खुलने के बाद 9 से 16 जून के बीच आयोजित की गई। सोमवार को परिणाम घोषित किया गया। इमें नियमित विद्यार्थियों का परिणाम 68.81 फीसदी और प्रायवेट विद्यार्थियों का परिणाम 28.70 फीसदी रहा। उन्होंने बताया कि एक बार फिर सरकारी स्कूलों का परिणाम बेहतर रहा है। इस बार शासकीय स्कूल में 71.43 फीसदी और प्राइवेट स्कूल में 64.93 फीसदी छात्र-छात्राएं पास हुए।

इस बार बारहवीं के गणित-विज्ञान समूह में मंदौसौर के दो विद्यार्थी मंदसौर की प्रिया पुत्री शम्भू लाल तथा रिंकू पुत्र मुकेश बथरा ने 99 फीसदी अंकों के साथ टॉप किया है। उन्होंने 500 में से 495 अंकों के साथ मैरिट में पहला स्थान हासिल किया है, जबकि मंदसौर के ही हरी कारपेंटर (491) द्वितीय, छतरपुर के नरेन्द्र कुमार पटेल (489) तृतीय, होशंगाबाद की साशी मिश्रा व जबलपुर के आशीष कुशवाहा जबलपुर (487) संयुक्त रूप से चतुर्थ और शिवपुरी के दिव्यांश लाल (486) पांचवें स्थान पर रहे।

इसी प्रकार कला संकाय में रीवा की खुशी सिंह (486) प्रथम, नरसिंहपुर की मधुलता सिलावट (479) द्वितीय, नीमच की निकिता पाटीदार (476) तृतीय, दतिया की निराली शर्मा (473) चतुर्थ और चार विद्यार्थी संयुक्त 471 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर रहे। वहीं, वाणिज्य संकाय में भोपाल के विवेक गुप्ता ने 486 अंकों के साथ मैरिट में प्रथम स्थान हासिल किया है।

इधर, राज्य सरकार ने मेधावी विद्यार्थियों के लिए लैपटॉप देने की योजना फिर शुरू की है। कक्षा 12वीं परीक्षा में टॉप करने वाले विद्यार्थियों को लैपटॉप दिए जाएंगे। उन्हें 25 हजार रुपये और सर्टिफिकेट भी दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोना का इलाज कराते हुए अस्पताल से इसकी घोषणा की है। वहीं, फेल होने वाले विद्यार्थियों को दोबारा मौका दिया जाएगा और उनके लिए विशेष परीक्षा आयोजित की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button