हाथरस के बाद बलरामपुर की घटना को लेकर विपक्ष के निशाने पर योगी सरकार, राहुल गांधी ने कही- ये बात

कभी जीते-जी सम्मान नहीं दिया और अंतिम संस्कार की गरिमा भी छीन ली। भाजपा का नारा ‘बेटी बचाओ’ नहीं, ‘तथ्य छुपाओ, सत्ता बचाओ’ है।”

नई दिल्ली।। उत्तर प्रदेश के हाथरस में गैंगरेप का शिकार हुई युवती को इंसाफ दिलाने के लिए देशभर में गुस्सा है लेकिन इस बीच बलरामपुर की घटना ने सबको झकझोर दिया है। बलरामपुर में भी बलात्कार के बाद लड़की के साथ क्रूरता का मामला सामने आया है। ऐसे में हाथरस के बाद बलरामपुर की घटना को लेकर तमाम विपक्षी पार्टियां उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यानाथ सरकार पर सवाल उठा रही हैं। कांग्रेस ने तो सीएम योगी पर मामले में सच छुपाने का भी आरोप लगाया है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने तो महिला सुरक्षा और अपराध पर नियंत्रण के मामले में उप्र सरकार को विफल करार दिया है। उन्होंने गुरुवार को ट्वीट कर कहा है कि “उत्तर प्रदेश के जंगलराज में बेटियों पर ज़ुल्म और सरकार की सीनाज़ोरी जारी है। कभी जीते-जी सम्मान नहीं दिया और अंतिम संस्कार की गरिमा भी छीन ली। भाजपा का नारा ‘बेटी बचाओ’ नहीं, ‘तथ्य छुपाओ, सत्ता बचाओ’ है।”

बलरामपुर घटना को लेकर प्रियंका गांधी ने भी योगी सरकार पर निशाना साधा गया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि हाथरस जैसी वीभत्स घटना बलरामपुर में घटी, लड़की का बलात्कार कर पैर और कमर तोड़ दी गई। आजमगढ़, बागपत, बुलंदशहर में बच्चियों से दरिंदगी हुई। यूपी में फैले जंगलराज की हद नहीं। मार्केटिंग, भाषणों से कानून व्यवस्था नहीं चलती, ये मुख्यमंत्री की जवाबदेही का वक्त है जनता को जवाब चाहिए।

हाथरस में पीड़ित लड़की की मौत के बाद उसका जबरन अंतिम संस्कार किए जाने को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं। विपक्ष के आरोप और सरकार की सफाई के बीच हाथरस गैंगरेप मामला अब पूरी तरह से राजनीतिक रंग ले चुका है। योगी सरकार द्वारा मामले की जांच एसआईटी को सौंपे जाने के बाद आज कांग्रेस नेता राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी समेत कई अन्य नेता हाथरस जाएंगे।

दूसरी ओर, निर्भया की वकील रहीं सीमा कुशवाह भी आज हाथरस में होंगी, उन्होंने पीड़ित परिवार से मिलने की बात कही है। दिल्ली गैंगरेप की शिकार ‘निर्भया’ की मां आशा देवी हाथरस के पीड़ित परिवार की मदद करने की बात कही है। उन्होंने कहा है अगर न्याय पाने के लिए परिवार चाहेगा तो वो हरसंभव मदद करेंगी। उन्होंने कहा कि वो इस वक्त परिवार के दुख को समझ सकती हैं क्योंकि वो भी इस दौर से गुजरी हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button