इस राज्य में लगातार हो रही झमाझम बारिश, दूसरे दिन भी गरज के साथ बरसे काले बादल

जानकारों ने सम्भावना जताई है कि बारिश समाप्ति के उपरांत मौसम में अचानक ठंड का प्रकोप बढ़ जाएगा। फिलहाल जिले के सभी स्थानों पर हल्की और तेज बारिश की बूंदों ने खेत खलिहानों को पानी पानी कर दिया है।

मध्य प्रदेश।। शनिवार की रात से बदले मौसम के मिजाज में दूसरे दिन सोमवार को भी गरज के साथ काले बादलों से झमाझम बारिश हुई। दोपहर आरम्भ हुई बारिश का सिलसिला रात तक जारी रहा। जहां बारिश के कारण अब फिजाओं की हवाओं में ठंडक सा माहौल बन गया है। हल्की तेज हवाओं से शरीर में ठंड सी सिहरन हो रही है।

जानकारों ने सम्भावना जताई है कि बारिश समाप्ति के उपरांत मौसम में अचानक ठंड का प्रकोप बढ़ जाएगा। फिलहाल जिले के सभी स्थानों पर हल्की और तेज बारिश की बूंदों ने खेत खलिहानों को पानी पानी कर दिया है। जिले में पिछले 24 घंटे में 9.6 मिमी वर्षा दर्ज की गई है।

कृषि उपसंचालक एनडी गुप्ता ने बताया कि पिछले दो दिनों से जिले के लगभग सभी हिस्सों में बारिश की मात्रा बरसी है। इसमें धान की फसलों के साथ अन्य खरीफ फसलों को लाभ पहुंचेगा, साथ ही अक्टूबर प्लांट के रूप में पहले बुवाई हो रही अलसी, रामतिल और मटर जैसे फसलों को भी लाभ पहुंचेगा। हालांकि दीपावली के उपरांत रबी की बुवाई मानी जाती है।

लेकिन परत खेत में किसान अर्ली रबी की बुवाई आरम्भ कर देते हैं। वहीं उपसंचालक ने बताया कि वर्तमान में गिर रही बारिश की पानी से रबी की सभी फसलों को अधिक लाभ मिलेगा, खेतों में बारिश के कारण बनी नमी अधिक समय तक जमी रहेगी। विदित हो कि जिले में इस वर्ष १ लाख ७५ हजार हेक्टेयर पर खरीफ की फसल बुवाई की गई है।

24 घंटे में जिले में 9.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज

अधीक्षक भू-अभिलेख ने बताया कि पिछले 24 घंटे में जिले में 9.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है। वर्षामापी केन्द्र अनूपपुर में 34.8 मिमी, जैतहरी में 4.0 मिमी, पुष्पराजगढ़ में 4.0 मिमी, बिजुरी में 11.6 मिमी, वेंकटनगर में 22.0 मिमी वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र कोतमा, अमरकंटक तथा बेनीबारी में वर्षा निरंक रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button