खुशखबरी: UP में दिन पर दिन कम हो रहा कोरोना का संक्रमण, 24 घंटे में आये 3348 नए मामले

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को बताया कि प्रदेश में 40,019 कोरोना के सक्रिय मामले हैं।

लखनऊ।। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार कमी आ रही है। पिछले 24 दिनों में 28,000 से ज्यादा सक्रिय मामले कम हुए हैं। पिछले चौबीस घंटे में कोरोना से संक्रमित 3,348 नये मामले आये हैं। वहीं इसी दौरान 3,417 व्यक्ति इलाज के बाद स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किये गये हैं। वहीं प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत अब बढ़कर 89.37 प्रतिशत है।

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को बताया कि प्रदेश में 40,019 कोरोना के सक्रिय मामले हैं। इन एक्टिव मामलों में 18,167 मरीज होम आइसोलेशन और 3,250 मरीज निजी चिकित्सालय में हैं। शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। इसके साथ ही अब तक कुल 3,90,566 लोग पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं।

अब तक 1.18 करोड़ कोरोना नमूनों की हुई जांच–

उन्होंने बताया कि प्रदेश में शनिवार को एक दिन में कुल 1,72,726 कोरोना नमूनों की जांच की गयी। इसके साथ ही अब तक कुल 1,18,98,777 सैम्पल की जांच की जा चुकी है।

शनिवार को 4,064 पूल के जरिए 24,730 नमूनों की हुई जांच–

उन्होंने बताया कि शनिवार को 4,064 पूल के जरिए 24,730 नमूनों की जांच की गई। इनमें पांच-पांच के 3,182 पूल लगाए गए, जिनमें 268 में पाॅजीटिविटी पायी गयी जबकि दस-दस के 882 पूल लगाए गए, जिनमें 36 में पाॅजीटिविटी पायी गयी।

इसके साथ ही ई-संजीवनी पोर्टल के माध्यम से पिछले चौबीस घंटे में 2,525 लोगों ने चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त किया है। वहीं अब तक कुल 1,32,811 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श प्राप्त किया है। प्रदेश में सर्विलांस टीम दिवस के माध्यम से 1,37,149 क्षेत्रों में 4,13,046 टीम दिवस के माध्यम से 2,67,70,953 घरों के 13,22,42,005 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है।

21-40 आयु वर्ग के लोग सबसे ज्यादा संक्रमित–

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि प्रदेश में कुल संक्रमण में 68 प्रतिशत पुरुष तथा 32 प्रतिशत महिलाएं संक्रमित हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 से संक्रमित 0-20 वर्ष तक 13.77 प्रतिशत, 21-40 वर्ष तक 47.69 प्रतिशत, 41-60 वर्ष तक 29.04 प्रतिशत तथा 60 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लोगों में 9.49 प्रतिशत है। पूर्व में यह 08 प्रतिशत से भी कम था, जो कि अब बढ़ता हुआ यहां तक पहुंच गया है। इसलिए बुजुर्गों पर ध्यान देने की जरूरत है, जिससे उन्हें संक्रमण से बचाया जा सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button