गोरखपुर जिला जेल बाईपास मार्ग फोरलेन में होगा तब्दील, कैबिनेट ने दी मंजूरी

यह मार्ग राष्ट्रीय मार्ग संख्या-24 से निकलकर राष्ट्रीय मार्ग संख्या-28 के छूटे भाग के बीच संचालित यातायात के लिए प्रयुक्त होता है,

लखनऊ।। मंत्रिपरिषद ने शुक्रवार को जनपद गोरखपुर में जिला जेल बाईपास मार्ग के चार-लेन चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण (शहरी अन्य जिला मार्ग) कराए जाने के प्रस्ताव को अनुमति प्रदान कर दी है।

यह मार्ग राष्ट्रीय मार्ग संख्या-24 से निकलकर राष्ट्रीय मार्ग संख्या-28 के छूटे भाग के बीच संचालित यातायात के लिए प्रयुक्त होता है, जिससे यह मार्ग मुख्य शहर से गुजरने वाले महत्वपूर्ण मार्गों, गोरखपुर-महराजगंज मार्ग (राज्य मार्ग संख्या-81) तथा गोरखपुर-पिपराइच मार्ग (प्रमुख जिला मार्ग संख्या-573ई) को क्राॅस करता है।

इस प्रकार, गोरखपुर शहर में सोनौली, महराजगंज, पिपराइच, देवरिया एवं कुशीनगर, वाराणसी से आने वाले वाहन शहर में न जाकर इसी बाईपास मार्ग का प्रयोग करते हैं, जिसके कारण वर्तमान में प्रश्नगत मार्ग पर यातायात का भारी दबाव एवं वर्ष पर्यन्त भीषण जाम की समस्या बनी रहती है। यातायात को सुगम बनाने एवं जाम से निजात दिलाने के लिए इस कार्य को अनुमति प्रदान की गई है।

मार्ग की लम्बाई 8.560 किलोमीटर है। परियोजना की प्रस्तावित लागत 19939.80 लाख रुपये है। परियोजना के अन्तर्गत सिविल कार्य की लागत 8751.28 लाख रुपये, यूटिलिटी शिफ्टिंग की लागत 4304.00 लाख रुपये है। (इसमें विशेष रूप से शहरी भाग में विद्युत डक्ट केबलिंग का कार्य प्रस्तावित है)। भूमि अध्याप्ति की लागत 4716.00 लाख रुपये है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button