उत्तर प्रदेश: सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के नतीजे आज, मतगणना शुरू

मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने बताया कि कोरोना के मद्देनजर मतगणना कर्मियों की सुरक्षा के लिए थर्मल स्कैनर, हैंड सेनीटाइजर, ग्लब्स, फेस मास्क, फेस शील्ड, पीपीई किट आदि की पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था की गई है।

लखनऊ।। प्रदेश में विधान सभा की रिक्त हुई सात सीटों पर हुए उपचुनाव के लिये मंगलवार को आठ बजे से मतगणना शुरू हो गई। सबसे पहले पोस्टल बैलेट की गिनती शुरू हुई। इसके पूरा होने के बाद अब ईवीएम से मतगणना की जा रही है। इन विधानसभा क्षेत्रों में विगत मंगलवार को हुए उपचुनाव में औसत 53.62 प्रतिशत मतदान हुआ था। शुरुआती रुझानों में कानपुर की घाटमपुर और देवरिया सदर सीट पर भाजपा आगे चल रही है। मल्हनी से सपा ने शुरुआती बढ़त बनायी है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने बताया कि कोरोना के मद्देनजर मतगणना कर्मियों की सुरक्षा के लिए थर्मल स्कैनर, हैंड सेनीटाइजर, ग्लब्स, फेस मास्क, फेस शील्ड, पीपीई किट आदि की पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था की गई है। भारत निर्वाचन आयोग ने कोरोना के मद्देनजर एक मतगणना हॉल में अधिकतम 7 टेबल लगाए जाने की अनुमति प्रदान की है। बुलंदशहर सदर तथा मल्हनी विधानसभा क्षेत्रों में मतगणना तीन-तीन हॉल में तथा शेष पांच विधानसभा क्षेत्रों में मतगणना दो-दो हॉल में सम्पन्न कराई जा रही है।

उन्होंने बताया कि विधानसभा चुनाव में कुल 88 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें 09 महिलाएं हैं। मतगणना शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए पर्याप्त मात्रा में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। इन सभी निर्वाचन क्षेत्रों के उपचुनाव की मतगणना पर नजर रखने के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने सात प्रेक्षकों की भी तैनाती की गई है।

उपचुनाव में अमरोहा जनपद की 40-नौगांव सदात से 14, जनपद बुलन्दशहर की 65-बुलन्दशहर से 18, फिरोजाबाद की सुरक्षित सीट 95-टूंडला (एससी) से 10, उन्नाव की 162-बांगरमऊ से 10, कानपुर नगर की सुरक्षित सीट 218-घाटमपुर (एससी) से 06, जनपद देवरिया की 337-देवरिया से 14 तथा जौनपुर की 367-मल्हनी सीट से 16 उम्मीदवार मैदान में हैं। आज मतगणना के बाद इन उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला होगा। पिछली बार इन सात में से मल्हनी सीट सपा के पास थी जबकि छह सीटों पर भाजपा का कब्जा था।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान के निधन से रिक्‍त हुई नौगांव-सादात सीट पर भाजपा से उनकी पत्‍नी संगीता चौहान, कांग्रेस से कमलेश सिंह, सपा से जावेद अब्‍बास, बसपा से फुरकान और राकांपा से हशमत अली समेत अन्‍य उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में हैं। वहीं एक अन्य मंत्री कमल रानी वरुण के निधन के रिक्‍त हुई घाटमपुर सीट पर भाजपा से उपेंद्र नाथ पासवान, सपा से इंद्रजीत कोरी, बसपा से कुलदीप संखवार और कांग्रेस से डॉ कृपा शंकर उम्‍मीदवार हैं।

इसके अलावा विधानसभा में भाजपा के मुख्‍य सचेतक रहे वीरेंद्र सिंह सिरोही के निधन के बाद भाजपा ने बुलंदशहर सीट पर सिरोही की पत्‍नी ऊषा सिरोही, बसपा ने मोहम्‍मद युनूस, कांग्रेस ने सुशील चौधरी, राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने योगेंद्र शंकर शर्मा, आल इंडिया मजलिस-ए-इत्‍तेहादुल मुसलमीन ने दिलशाद अहमद और राष्‍ट्रीय लोकदल ने प्रवीण कुमार सिंह को मौका दिया है। समाजवादी पार्टी ने इस सीट पर राष्‍ट्रीय लोकदल को समर्थन दिया है।

उन्‍नाव की बांगरमऊ सीट पर कांग्रेस से आरती बाजपेयी, बहुजन समाज पार्टी से महेश प्रसाद और भाजपा से श्रीकांत कटियार चुनाव मैदान में हैं, जबकि समाजवादी पार्टी ने यहां सुरेश कुमार पाल को मैदान में उतारा है। बांगरमऊ सीट विधायक कुलदीप सेंगर के सजायाफ्ता होने से रिक्‍त हुई है।

भाजपा विधायक जनमेजय सिंह के निधन से रिक्‍त हुई देवरिया सीट पर पार्टी से सत्‍यप्रकाश मणि त्रिपाठी, समाजवादी पार्टी से ब्रह्मा शंकर त्रिपाठी, बहुजन समाज पार्टी से अभय नाथ त्रिपाठी और कांग्रेस से मुकुंद भाष्‍कर तथा राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी से अशोक यादव चुनाव मैदान में हैं। देवरिया में भाजपा से टिकट न मिलने पर जनमेजय के पुत्र अजय प्रताप सिंह उर्फ पिंटू निर्दलीय उम्‍मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं।

समाजवादी पार्टी के विधायक पारसनाथ यादव के निधन से रिक्‍त हुई मल्‍हनी सीट पर सपा ने लकी यादव, भारतीय जनता पार्टी ने मनोज कुमार सिंह, बहुजन समाज पार्टी ने जयप्रकाश दुबे, कांग्रेस ने राकेश मिश्र और राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने सतीश चंद्र उपाध्‍याय को मौका दिया है। मल्‍हनी सीट पर पूर्व सांसद धनंजय सिंह भी किस्‍मत आजमा रहे हैं।

भाजपा सरकार में मंत्री रहे एसपी सिंह बघेल के आगरा से सांसद बनने के बाद रिक्‍त हुई टूंडला सीट पर भाजपा से प्रेम पाल सिंह धनगर, समाजवादी पार्टी से महराज सिंह धनगर और बहुजन समाज पार्टी से संजीव चक मैदान में हैं। यहां कांग्रेस उम्‍मीदवार का नामांकन पहले ही निरस्‍त हो गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button