एक युवती और दो प्रेमी, फिर हुआ खौफनाक कांड

हत्या के मामले में उसकी कथित पत्नी और उसके प्रेमी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। एक आरोपित फरार चल रहा है। 

अम्बेडकर नगर। जनपद न्यायालय के अमीन आशीष शुक्ला की हत्या का खुलासा पुलिस ने सोमवार को कर दिया है। हत्या के मामले में उसकी कथित पत्नी और उसके प्रेमी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। एक आरोपित फरार चल रहा है।
A maiden and two lovers 

पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने सोमवार को प्रेसवार्ता कर घटना का खुलासा करते हुए बताया कि मालीपुर के नेमपुर घाट पर 28 नवम्बर को आमीन आशीष का शव बरामद किया था। इस हत्याकांड में पुलिस ने आशीष की कथित पत्नी बड़ागांव निवासी सोनू तिवारी उसके प्रेमी आनंद और गंगापुर निवासी सजीवन पाण्डेय को गिरफ्तार किया है।

पूछताछ में पकड़ी गयी महिला आरोपित सोनू ने बताया कि मृतक आशीष शुक्ला से उसके संबंध थे। उसकी पत्नी की नामौजूदगी में वह पत्नी के तौर पर ही उसके घर पर रहती थी। वह खुद को आशीष शुक्ला की पत्नी सोनू के रूप में प्रदर्शित करती थी।  

अकबरपुर के सीहमयी कारीरात गांव निवासी आनंद तिवारी आशीष शुक्ला के अच्छे मित्र थे। अक्सर आशीष आनंद उससे मिलने आया करता था। इसी दौरान उसके संबंध भी आनंद से हो गये। इसके बाद दोनों ने आशीष को रास्ते से हटाने की योजना बना ली। योजना थी कि आशीष की हत्या के बाद उसे उसकी नौकरी मिल जायेगी और दोनों शादी कर लेंगे। 

इसके बाद घटना को देने के लिए उन्होंने आरडी लाज में कार्यरत सजीवन पांडे को भी अपने साथ मिलाया। घटना वाली रात उन तीनों उसकी हत्या के बाद शव को गाड़ी में लादा और नेमपुर घाट पर ले जाकर फेंक दिया। पुलिस ने उनके पास से चाकू, कैंची, पांच मोबाइल फोन, पल्सर मोटर साइकिल व घटना में प्रयोग में लाई गई कार को भी बरामद कर लिया है। तीन आरोपितों को जेल भेजकर फरार एक साथी की तलाश की जा रही है।   

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button