शतक जड़ने के बाद ऋषभ पंत ने कहा- इस खिलाड़ी बनाई थी मैने रणनीति!

दिन के मुकाबले रात में गुलाबी गेंद से खेलना ज्यादा चुनौतीपूर्ण : रिषभ पंत

ऑस्ट्रेलिया ए के विरूद्ध दूसरे प्रैक्टिस मुकाबले में शतकीय पारी खेलने वाले विकेट कीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने कहा कि दिन के मुकाबले रात में गुलाबी गेंद से खेलना ज्यादा चुनौतीपूर्ण होता है। बता दें कि ऑस्ट्रेलिया ए के विरूद्ध खेला गया दूसरा तीन दिवसीय अभ्यास मैच डे-नाईट मैच था।

r pant

इस मैच ऋषभ ने 73 गेंदों पर शतक लगाया था,वह 103 रन बनाकर नाबाद थे। इस दौरान उन्होंने 9 चौके और 6 छक्के लगाए थे। पंत के अलावा हनुमा विहारी ने भी नाबाद 104 रनों की शतकीय पारी खेली। ऋषभ ने बीसीसीआई टीवी से बातचीत में कहा कि गुलाबी गेंद से खेलने से पहले यह अहम था कि हम इससे एक अभ्यास मैच खेलें, यह अच्छा था।

उन्होंने कहा कि हमारे गेंदबाजों ने अच्छी गेंदबाजी की। बल्लेबाजों ने विकेट पर समय बिताया। मुझे लगता है कि हमने अच्छा अभ्यास किया। लाइट्स में गुलाबी गेंद से खेलना काफी मुश्किल है। गेंद स्विंग करती है, दिन में बल्लेबाजी आसान होती है।

ऋषभ ने कहा, “हनुमा विहारी और मैंने साझेदारी करने की रणनीति बनाई थी। हमने पूरे दिन बल्लेबाजी करने की योजना बनाई। यह जरूरी था कि मैं विकेट पर समय बिताऊं। आत्मविश्वास धीरे-धीरे बढ़ा और दिन के आखिरी ओवर में मैंने 22 रन बनाए। आखिरी ओवर में मैंने जब शॉट्स लगाने शुरू किए तो विहारी ने मुझसे कहा कि मैं शतक पूरा कर सकता हूं। शतक पूरा करने से मुझे आत्मविश्वास मिलेगा।”

ऋषभ और विहारी के शतकों के दम पर भारत ने आस्ट्रेलिया-ए को 473 रनों का लक्ष्य दिया था। पंत ने कहा, “पहली पारी में हम जल्दी आउट हो गए थे। पहली पारी में विकेट पर कुछ नमी थी। दूसरी पारी में गेंद स्विंग कर रही थी। हर किसी को विकेट का पता था इसलिए दूसरी पारी अच्छी रही।”

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button