Bengal Assembly Elections: नंदीग्राम चुनाव परिणाम के खिलाफ कोर्ट जाएगी ममता बनर्जी!

उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ हम सब मिलकर काम करेंगे। हम राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और लोगों से जुड़े मुद्दे पर मिलकर काम करना चाहते हैं,

कोलकाता।। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद राज्य में कई स्थानों पर हुए भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला और हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सभी प्रदेशवासियों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने नंदीग्राम चुनाव परिणाम के खिलाफ हाई कोर्ट जाने की बात भी कही है।

सोमवार को निर्वाचित सभी विधायकों के संग बैठक करने से पहले कालीघाट स्थित अपने आवास पर मीडिया से मुखातिब मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी शांति बरकरार रखें। यह समय कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने का और कोरोना मरीजों के साथ खड़े होने का है और सबको यही करना चाहिए। उन्होंने कहा कि वह लोगों से अपील करती हैं कि शांति से रहें। उन्होंने कहा कि उनकी जीत के बाद उद्धव ठाकरे, नवीन पटनायक, रजनीकांत, अखिलेश यादव, अरविंद केजरीवाल, अरमेंदर सिंह ने फोन कर बधाई दी है।

लेकिन पीएम ने अभी तक फोन कर बधाई नहीं दी है। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ हम सब मिलकर काम करेंगे। हम राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और लोगों से जुड़े मुद्दे पर मिलकर काम करना चाहते हैं, लेकिन एक हाथ ताली नहीं बजती है। उन्होंने बताया कि मैने विधायक दल की बैठक बुलाई है। कोरोना से कठोरता से निपटना होगा। यह हमारी पहली प्राथमिकता होगी।

उन्होंने कहा कि नंदीग्राम में गड़बड़ी की गई थी। रिटर्निंग ऑफिसर को जान से मारने की धमकी दी गई थी। उन्होंने नंदीग्राम के चुनाव परिणाम के खिलाफ कोर्ट जायेंगे। ममता बनर्जी ने एक वाट्सएप्प दिखाते हुए कहा कि रिटर्निंग ऑफिसर ने कहा कि यदि काउंटिंग करेंगे, तो लाइफ एंड डेथ की समस्या होगी। मशीन रिकाउंटिंग करने में भय क्या है? चुनाव आयोग ने रिकाउंटिंग की अनुमति नहीं दी है। गन प्वाइंट से काम करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ने हार की घोषणा कर दी। इतना बड़ी माफियागिरी ठीक नहीं है। हम कोर्ट जाएंगे। उन्होंने कहा कि नंदीग्राम में तब तक आंदोलन जारी रहेगा, जब-तक मशीन और वीवी पैड अलग रखने और कोई टैम्पर नहीं होने संबंधी लिखित आश्वासन नहीं दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि मद्रास हाई कोर्ट ने चुनाव आयोग पर फैसला सुरक्षित रखा है। हम न्याय चाहते हैं, हम हिंसा नहीं चाहते हैं। लेकिन BJP को शर्म आनी चाहिए।

कुछ पुलिसवालों ने BJP के लिए काम किया–

बनर्जी ने कहा, ”बंगाल शांतिपूर्ण, संस्कृति की जगह है। चुनाव हुआ है। हार-जीत हुई है। BJP और सेंट्रल फोर्स ने अत्याचार किया है। इसके बावजूद शांत होकर रहें। कोई हिंसा न करें। कुछ पुलिसवालों ने BJP के लिए काम किया। कूचबिहार के एसपी ने BJP के लिए काम किया। बाद में देखा जाएगा। अभी कानून-व्यवस्था संभालने की जरूरत है। अभी तो स्थिति हमारे हाथ में नहीं है। राज्यपाल से शाम सात बजे मिलने का समय मांगा है। पहले इस्तीफा पत्र देना होगा है। उन्होंने सभी से राजधर्म का पालन करने की अपील की है। उल्लेखनीय है कि मतगणना के बाद राज्यभर में हिंसा, BJP कार्यकर्ताओं के घरों में तोड़फोड़, आगजनी, लूट की घटनाओं के साथ पांच लोगों को मौत के घाट उतारा जा चुका है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button