Corona के डेल्टा वेरिएंट से निपटने के लिए बंगाल सरकार पूरी तरह तैयार, 10 सदस्यीय कमेटी का किया गठन

आज पश्चिम बंगाल राज्य के स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार विशेषज्ञ समिति के ओएसडी (ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी) फिजिशियन जीके धाली को बनाया गया है।

कोलकाता।। पश्चिम बंगाल के स्वास्थ्य विभाग ने 10 सदस्य कमेटी का गठन किया है, जो कोरोना की संभावित तीसरी लहर अथवा डेल्टा वेरिएंट से निपटने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश देगी। साथ ही यह कमेटी कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की रणनीति तैयार करेगी।इसके साथ ही बच्चों और महिलाओं को लेकर स्वास्थ्य व्यवस्था की मूलभूत सुविधाएं तैयार करने का सुझाव देगी। इससे पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को दावा किया था कि उनकी सरकार कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर चुकी है।

आज पश्चिम बंगाल राज्य के स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार विशेषज्ञ समिति के ओएसडी (ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी) फिजिशियन जीके धाली को बनाया गया है। अन्य सदस्यों में डॉक्टर मैत्रेयी बंद्योपाध्याय (एसएसकेएम), दिलीप पॉल (बीसी रॉय चिल्ड्रन हॉस्पिटल), योगीराज रॉय (ट्रॉपिकल मेडिसिन स्कूल), मृणाल कांति दास (एसएसकेएम), विभूति साहा (ट्रॉपिकल मेडिसिन स्कूल), आशुतोष घोष (एसएसएमके), ज्योतिर्मय पाल (आरजी कर हॉस्पिटल्स) और अभिजीत चौधरी आदि शामिल हैं।

यह विशेषज्ञ समिति सलाह देगी कि तीसरी लहर से निपटने के लिए किस तरह के स्वास्थ्य ढांचे की जरूरत है और खासकर कोरोना प्रभावित बच्चों के इलाज के लिए किस तरह की व्यवस्था करने की जरूरत है। इस संबंध में पश्चिम बंगाल स्वास्थ्य सेवा के निदेशक अजय चक्रवर्ती ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा संचालित अस्पतालों और निजी अस्पतालों में 26,000 कोविड-19 बिस्तरों में लिंग अनुपात को बदलने की योजना बनायी जा रही है।

उन्होंने कहा, “पश्चिम बंगाल में वर्तमान में कोविड-19 बिस्तरों के संबंध में पुरुषों के लिए लिंग अनुपात लगभग 60:40 है। हम पुरुष रोगियों के लिए बिस्तरों की संख्या को कम करके और महिलाओं के लिए बिस्तरों की संख्या बढ़ाकर इसे 40:60 करने की योजना बना रहे हैं। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद समिति बनाने का फैसला किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button