बड़ी खबर : वाराणसी में मरीजों को घर पर ही मिलेगा इलाज, लांच हुई काशी कवच व्यवस्था

वाराणसी। वाराणसी में मरीजों को घर पर ही इलाज से लेकर जांच और दवा उपलब्ध कराने के लिए प्रशासन ने एक नई व्यवस्था लांच की है। काशी कवच नाम की इस व्यवस्था का लाभ कोविड और नॉन कोविड दोनों प्रकार के मरीजों को मिलेगी। इस व्यवस्था में ई-मार्केटिंग से जुड़ी कंपनियों को भी जोड़ा गया है। इस नई व्यवस्था से जुड़े डॉक्टरों और पैथोलॉजी की लिस्ट भी जारी की गयी है।

उल्लेखनीय है की इस समय प्रदेश में ओपीडी सेवाएं बंद हैं। अधिकतर डॉक्टर कोरोना की जांच के बाद ही मरीजों को उपचार दे रहे हैं। संक्रमण से बचने के लिए आम लोग भी अस्पताल और पैथोलॉजी लैब जाने से परहेज कर रहे हैं। ऐसे में डॉक्टर की सलाह घर बैठे इलाज की सुविधा मुहैया कराने के लिए प्रशासन ने आईएमए के साथ मिलकर इस व्यवस्था को शुरू किया है।

काशी कवच के तहत लोग टेलीमेडिसिन के जरिए डॉक्टर से सलाह लेकर घर पर ही क़ोविड कंट्रोल कर सकते हैं। यदि डॉक्टर जांच के लिए लिखता है तो इस सुविधा से जुड़े पैथोलॉजी सेंटर से घर बैठे सैंपल की सुविधा मिल सकती है या फिर मरीज घर के नजदीक स्थि‍त पैथोलॉजी सेंटर की जानकारी भी मिली मिलेगी। इस व्यवस्था से जोमैटो जैसी ई-मार्केटिंग कंपनियों को भी जोड़ा गया है। ई-मार्केटिंग से जुड़ी कंपनियों के प्रतिनिधि दवा मरीज तक घर पर पहुंचाएंगे।

बताते चलें कि काशी कवच व्यवस्था को एमएलसी एके शर्मा ने डीएम कौशल राज शर्मा और कमिश्नर दीपक अग्रवाल के साथ मिलकर लांच किया है। काशी कवच को लांच करते हुए एमएलसी एके शर्मा ने कहा कि इस सुविधा से काशी के लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। नॉन कोविड मरीजों को भी घर पर ही डॉक्टरों की सलाह मिल जाएगी। कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि फीस का निर्धारण डॉक्टर और मरीज के बीच आपसी सहमति से होगा। इस व्यवस्था से जुड़े सभी डॉक्टर मरीज का फोन उठाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button