Budget 2021-22 : सरकार ने नौकरीपेशा लोगों को किया निराश, बुजुर्गों को राहत

नई दिल्ली। सरकार ने नौकरीपेशा लोगों को निराश किया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इनकम टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया है। हां, 75 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को राहत देते हुए उन्हें आईटीआर फाइल करने से मुक्त कर दिया है।

वित्‍त मंत्री ने बजट में आम नौकरी पेशा लोगों को किसी भी तरह से राहत नहीं दी है। इस बजट में न तो कोई अतिरिक्त टैक्स छूट की घोषणा की गई और न ही टैक्स स्लैब में कोई सुधार किया गया। लोग आशा कर रहे थे कि कोरोना त्रासदी के चलते उन्हें टैक्स में छूट मिल सकती है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में बुजुर्गों का जरूर ख्याल रखा है। उन्होंने कहा कि सरकार 75 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों, जिनकी आय का स्रोत सिर्फ पेंशन है, उन्‍हें अब इनकम टैक्‍स रिटर्न भरने से मुक्त किया जाता है। इससे बुजुर्गों को राहत मिलेगी।

निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में छोटे करदाताओं के लिए विवाद समाधान समिति गठित करने का प्रस्ताव किया है। यह समिति दक्षता और पारदर्शिता सुनिश्चित करेगी। वित्त मंत्री ने कहा कि इस कदम से छोटे करदाताओं के मुक़दमे कम होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button