CM योगी ने कहा – प्रदेश में ऑक्सीजन व दवाओं की कमी नहीं, अफवाहों को रोके मीडिया

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना महामारी को लेकर एकबार फिर अपनी पीठ थपथपाई है। सीएम ने कहा की कि प्रदेश में तैयारी बेहतर है। ऑक्सीजन और दवाओं की कोई कमी नहीं है। कालाबाजारी और जमाखोरी बड़ी समस्या है। उन्होंने कहा कि जिन्हें ऑक्सीजन की जरुरत नहीं है वे भी इसके लिए परेशान हो रहे हैं। सीएम योगी ने सभी सम्पादकों और वरिष्ठ पत्रकारों को पत्र लिखकर अफवाहों को लेकर लोगों को जागरूक करने की अपील की है।

सीएम योगी ने अपने पत्र में लिखा है कि इसे सामान्य वायरल फीवर भर मान लेना भारी भूल होगी, मैं खुद इसकी चपेट में हूं और गत 13 अप्रैल से ही आइसोलेशन में रहते हुए कोविड प्रोटोकॉल का पालन कर रहा हूं। योगी ने पत्र में कहा है कि इस बार की लहर पिछली बार की तुलना में लगभग तीस गुना अधिक संक्रामक है। सरकार द्वारा मरीजों के बेहतर इलाज के लिए सभी जरूरी इंतज़ाम किये जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले दिनों दिल्ली में लॉकडाउन की घोषणा हुई, तो रातों-रात एक से डेढ़ लाख प्रवासी श्रमिकों का आगमन हुआ। हमने व्यवस्था की, सभी का टेस्ट कराया और आवश्यकतानुसार क्वारन्टीन किया। उन्होंने कहा कि हमने सरकारी संस्थानों में ऑक्सीजन प्लांट की व्यवस्था कर रखी है। डीआरडीओ की नवीनतम तकनीक आधारित 18 प्लांट सहित 39 नए ऑक्सीजन प्लांट लगाने का काम हो रहा है ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के किसी भी कोविड हॉस्पिटल में ऑक्सीजन का अभाव नहीं है। समस्या कालाबाजारी और जमाखोरी है। उन्होंने बताया कि दो दिन पूर्व एक निजी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन खत्म होने की सूचना सार्वजनिक कर दी गई। पड़ताल कराने पर पता चला की९ वहां पर पर्याप्त ऑक्सीजन है। मीडिया को लोगों को जागरूक करने की जरूरत है।

UP के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को लेकर मायावती ने जताई चिन्ता, कहा- प्रभावी कदम उठाए योगी सरकार

सीएम योगी ने पत्र में कहा है कि हम ऑक्सीजन की प्रॉपर मॉनिटरिंग के लिए आईआईटी कानपुर, आआइएम लखनऊ और आईआईटी बीएचयू के सहयोग से ऑक्सीजन की ऑडिट कराने जा रहे हैं। ऑक्सीजन मांग-आपूर्ति-वितरण की लाइव ट्रैकिंग कराने की व्यवस्था लागू हो गई है। ऑक्सीजन कहीं कम नहीं है, बशर्ते केवल जरूरतमंद ही इसका इस्तेमाल करें। इसी तरह रेमेडेसीवीर जैसी दवाओं का भी अभाव नहीं है।

राहुल गांधी का प्रधानमंत्री पर हमला, कहा- वैक्सीन की कमी समस्या है उत्सव नहीं

सीएम योगी ने कहा कि कुछ लोग प्रदेश में भय और दहशत का माहौल बनाने में लगे हैं। सोशल मीडिया पर एक जैसे संदेश अलग-अलग एकाउंट से प्रसारित किया जा रहा है। इन लोगों को चिन्हित किये जाने की जरूरत है। सीएम ने कहा कि कोविड की पिछली लहर के समय मीडिया ने लोगों को जागरूक और शिक्षित करने की दिशा में बेहतर कार्य किया था। स्वस्थ हो रहे लोगों के साक्षत्कार प्रसारित किए गए, इससे समाज में सकारात्मक संदेश गया। मीडिया से इसी भूमिका के निर्वहन की अपेक्षा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button