चमकेंगे यूपी के परिषदीय विद्यालय, छात्र और शिक्षक रोज करेंगे साफ-सफाई

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के परिषदीय विद्यालय भी अब चमकते नजर आएंगे। पढ़ाई से पहले छात्र और शिक्षक प्रतिदिन 15 से 20 मिनट तक अपने विद्यालय की सफाई करेंगे। इस संबंध में बेसिक शिक्षा विभाग ने एक आदेश जारी किया है। आदेश के मुताबिक हर विद्यार्थी को बिना किसी भेद-भाव को रोजाना 15 से 20 मिनट तक साफ-सफाई करनी होगी। कक्षा एक से पांच तक के विद्यार्थियों को साफ-सफाई में शामिल नहीं किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि सरकार ने सूबे में ‘मेरा विद्यालय-स्वच्छ विद्यालय’ कार्यक्रम शुरू किया गया है। इस कार्यक्रमका मकसद परिषदीय स्कूलों साफ़-सुथरा और उसमे पढ़ने वाले बच्चों को स्वच्छता और स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना है। बेसिक शिक्षा महकमे का मानना है कि विद्यालय की साफ-सफाई केवल एक विशेष व्यक्ति का कार्य नहीं है बल्कि विद्यार्थियों, शिक्षकों और समुदाय का भी नैतिक दायित्व है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 में भी बच्चों को स्वच्छता और अपशिष्ट प्रबंधन की जानकारी देने का प्रावधान है।

इस कार्यक्रम के तहत काम करके सीखने और कार्य करने से पहले सोचने, सूची बनाने, सामग्री का उपयोग करने के साथ ही सह-प्रबंधन और स्वच्छता को पवित्रता पर्व के रूप में आयोजित करने की छह सूत्रीय रणनीति बनाई गई है। इसके तहत हर विद्यार्थी को अपने स्कूल की स्वच्छता गतिविधि में शामिल होना होगा। इस बात के लिए विद्यार्थियों को शिक्षक प्रेरित करने के साथ ही खुद भी सफाई करेंगे। इसके साथ ही बच्चों को साबुन से हाथ धोने, पानी की बचत, शौचालय के उपयोग और शिष्टाचार की जानकारियां भी दी जाएंगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button