दिल्ली में 15 अगस्त को हो सकता है ड्रोन से अटैक, सुरक्षा एजंसियों ने जारी किया हाई अलर्ट

देश के सुरक्षा एजंसियों व दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को इस तरह के इनपुट्स मिले हैं। जिसके बाद दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

नई दिल्ली।। आने वाले स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर भारत के सुरक्षा एजंसियों ने दिल्ली पुलिस को अलर्ट रहने को कहा है। सुरक्षा एजंसियों का कहना है कि 15 अगस्त से पहले राजधानी में कभी भी कही भी ड्रोन से हमला हो सकता है। उन्होंने बतया कि जम्मू और उत्तर प्रदेश में आतंकी अपने मनसूबो में कामयाब नहीं हो सके तो अब देश की राजधानी को अपना निशाना बनाने की बड़ी योजना बना रहे हैं।

आपको बता दे, कि सुरक्षा एजंसियों से मिली ऐसी ही खबर 14 जुलाई को भी प्रमुखता से प्रकाशित की गई थी। इसके अनुसार, पाकिस्तान की आईएसआई संगठन दिल्ली सहित देश के कई शहरों पर हमला कर सकते है। वो आतंकियों को मानव बम बनाकर या फिर टारगेट किलिंग के जरिए वारदातों को अंजाम दिया जा सकता है।

देश के सुरक्षा एजंसियों व दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को इस तरह के इनपुट्स मिले हैं। जिसके बाद दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। दिल्ली में कई जगहों पर अर्धसैनिक बलों को तैनात कर दिया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार देश की महत्वपूर्ण इमारत व भीड़भाड़ वालों जगहों को निशाना बनाया जा सकता है। भीड़भाड़ जगहों पर छोटे-छोटे बम धमाके करवाए जा सकते हैं।

मेट्रो शहरों में कर सकते है ड्रोन से हमला–

देश के मेट्रो शहरों में ड्रोन से हमला करवाया जा सकता है। ये भी इनपुट्स मिले हैं कि आईएसआई ने इसके लिए रणनीति तैयार कर ली है और देश में स्लीपर सेल व गैंगस्टर का आतंकी वारदातों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। सुरक्षा एजंसियों के अधिकारियों ने बताया कि जम्मू में ड्रोन हमला व लखनऊ, यूपी से पकड़े आतंकियों को हाफिज सईद के आवास पर हुए बम धमाके के बदले के रूप में देखा जा रहा है। दिल्ली पुलिस आतंकी वारदातों को रोकने लिए सभी कदम उठा रही है। समय-समय पर मॉक ड्रिल की जा रही हैं।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल पूछताछ करने के लिए लखनऊ, यूपी रवाना हो गई है। स्पेशल सेल क टीम यूपी एटीएस द्वारा गिरफ्तार किए गए अलकायदा के आतंकियों से पूछताछ करेगी। स्पेशल सेल ने वर्ष 2015 में भी अलकायदा के पैन इंडिया मॉड्यूल का खुलासा किया था और छह आतंकियों को गिरफ्तार किया था।

स्पेशल सेल के पुलिस अधिकारियों के अनुसार यूपी एटीएस द्वारा गिरफ्तार आतंकी उमर अल मंडी का असली नाम सैयद अख्तर है। उसने अब अपना नाम बदल लिया है और अपना नाम उमर अल मंडी रख लिया है। ये आतंकी दिल्ली के केस में वांछित है। अली मंडी अलकायदा के आतंकी मोहम्मद शर्जील इस्मान का करीबी बताया जा रहा है। ये दोनों आपस में कई बार मिल चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button