खुशखबरी: इस राज्य के किसानों को सरकार की तरफ से बड़ा तोहफा, 19 लाख किसानों को मिलेंगे…

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को एक दिवसीय प्रवास पर इंदौर के लिए रवाना हुए थे। इससे पहले उन्होंने रास्ते में देवास जिले के खातेगांव के आसपास ग्रामीण इलाकों का दौरा कर फसलों को हुए नुकसान का जायजा लिया।

भोपाल।। मध्यप्रदेश में एक तरह कोरोना का कहर जारी है तो वहीं दूसरी ओर प्राकृतिक आपदा के चलते फसलों को भारी नुकसान पहुंच रहा है। इसी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को देवास जिले के खातेगांव में फसल नुकसानी का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने किसानों को ढांढस बंधाते हुए कहा कि मेरे किसान भाई-बहनों, आपके हर सुख-दुख में मैं आपके साथ हूं। आगामी 6 सितम्बर को 19 लाख किसानों के खातों में फसल बीमा का 4500 करोड़ रुपये ट्रांसफर किये जाएगा। आपको हर कठिनाई से बाहर निकालकर ले जाऊंगा। किसान संकट में हो, तो मैं चैन से नहीं बैठ सकता हूं।

दरअसल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को एक दिवसीय प्रवास पर इंदौर के लिए रवाना हुए थे। इससे पहले उन्होंने रास्ते में देवास जिले के खातेगांव के आसपास ग्रामीण इलाकों का दौरा कर फसलों को हुए नुकसान का जायजा लिया। इस अवसर पर अधिकारियों ने बताया कि खासतौर से सोयाबीन की फसलों को काफी नुकसान हो रहा है। पहले कम बारिश और अब लगातार बारिश के कारण फसलों में इल्लियां लगने से उनका विकास रुक गया है। खेतों में खड़ी फसल इल्ली और इससे संबंधित बीमारियों की चपेट में आकर पीली पड़ गई हैं।

फसल बीमा की तिथि 31 अगस्त तक बढ़ा दी गई–

इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किसानों को ढांढस बंधाया और उनकी हर संभव मदद का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि फसल बीमा की तिथि 31 अगस्त तक बढ़ा दी गई है, ताकि किसान को इसका लाभ मिले। इसके साथ मैं किसानों की राहत के लिए अन्य आवश्यक व्यवस्थाएं भी करूंगा। प्रदेश के मेरे अन्नदाता भाई-बहन चिंतित न हों।

उन्होंने कहा कि मेरे किसान भाइयों, आप जानते हैं कि कोरोना के कारण कई नई चुनौतियां समक्ष खड़ी हो गई हैं, लेकिन मेरे होते हुए आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। आपको फसल बीमा योजना का लाभ मिलेगा। इसके अलावा हालात का जायजा लेकर हम शीघ्र रणनीति बनाकर आपको राहत देने का काम करेंगे।

मुख्यमंत्री ने मीडिया से बातचीत में कहा कि फसलों में यह बीमारी एक सप्ताह के अंदर आई सोयाबीन की फसल को तबाह कर दिया। इस वजह से किसान परेशान हैं। उन्होंने बताया कि एक सप्ताह पहले ऐसे हालात नहीं थे। तीन चार दिन में उन्हें इस तरह के समाचार मिले और उन्होंने तुरंत मौके पर पहुंचकर फसलों का निरीक्षण करने का निर्णय लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों पर संकट आए और शिवराज घर पर बैठ जाए, ऐसा नहीं हो सकता है। कोरोना की वजह से अर्थव्यवस्था की हालत खराब है, लेकिन इसके बावजूद उनकी सरकार किसानों की हर संभव मदद करेगी और उन्हें इस संकट से बाहर निकालेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वे आज इस क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं और कल भी अलग-अलग स्थानों पर फसलों की स्थितियों का जायजा लेंगे। मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से खातेगांव पहुंचे थे। यहां जिला प्रशासन के अधिकारियों ने उनकी अगवानी की और इसके बाद वे सडक़ मार्ग से आसपास के ग्रामीण अंचलों के खेतों में पहुंचे और फसलों का जायजा लिया। इसके बाद इंदौर के लिए रवाना हो गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button