भारी बारिश ने जम्मू-कश्मीर में मचाई तबाही, प्रशासन ने जारी की बाढ़ और भूस्खलन की चेतावनी

संभाग के मैदानी इलाकों में रविवार तड़के से बारिश का सिलसिला जारी है। पहाड़ी इलाकों में भी लोग बारिश के रौद्र रूप से परेशान हैं। 

जम्मू कश्मीर।। जम्मू संभाग में भारी बारिश का सिलसिला जारी है। नदी-नाले उफान पर हैं। निचले इलाकों में जलभराव हो गया है। काफी बारिश होने से पानी घरों में घुस गया है। निरंतर हो रही बारिश से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग ने बाढ़ और भूस्खलन की चेतावनी जारी की है।

आपको बता दे संभाग के मैदानी इलाकों में रविवार तड़के से बारिश का सिलसिला जारी है। पहाड़ी इलाकों में भी लोग बारिश के रौद्र रूप से परेशान हैं। और यह पहली बार नहीं हुआ है, कि बारिश से इन जगहों पर लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

जोरदार बारिश के चलते रामबन के मगरकोट में पस्सियां गिरने से जम्मू-श्रीनगर हाईवे बंद हो गया है। जिससे उधमपुर के विभिन्न हिस्सों में घाटी जाने वाले वाहनों की कतारें लगी हैं। साथ ही मलबा हटाने का काम जारी है, लेकिन भारी बारिश के कारण दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। शुक्रवार की रात को मगरकोट में पस्सियां गिरने पर राजमार्ग बंद हो गया था।

इसके बाद रामबन के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई थी। उधमपुर में भी घाटी की ओर जाने वाले वाहनों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। शनिवार दोपहर को वैकल्पिक मार्ग तैयार कर रामबन में फंसे हजारों वाहनों को निकाल कर फिर से राजमार्ग को स्थायी तौर पर खोलने का काम शुरू कर दिया गया था। जिस स्थान पर पस्सियां गिरी हैं, वहीं पर टनल का भी निर्माण जारी है। इसलिए राजमार्ग को खोलने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

मलबा हटाने के दौरान फिर पस्सियां गिरने से काम प्रभावित रहा है। राजमार्ग को खोलने में कामयाबी नहीं मिली है। उधमपुर में रोके गए वाहनों की कतार बढ़ती जा रही है। सैकड़ों ट्रकों के साथ यात्री वाहनों को रोका गया है।

जम्मू में रविवार को दिन का अधिकतम तापमान 33. 8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जबकि न्यूनतम तापमान 26. 5 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ हैं। कटड़ा में अधिकतम तापमान 31. 3 डिग्री और श्रीनगर में 33. 7 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ है। पहलगाम में अधिकतम तापमान 29. 1 डिग्री रिकार्ड किया गया। प्रदेश में केवल कटड़ा में 1.8 एमएम बारिश रिकॉर्ड हुई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button