आम आदमी पर और पड़ेगी मंहगाई की मार, सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर लगाया सेस

नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण संसद में 2021-22 के लिए आम बजट पेश कर रही हैं। वित्त मंत्री ने पेट्रोल पर 2.5 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर चार रुपये प्रति लीटर की दर से कृषि सेस लगाने की घोषणा की है। सीतारमण ने कहा कि मैं कुछ चीजों पर कृषि अवसंरचना और विकास सेस लगाने का प्रस्ताव करती हूं। हालांकि सीतारमण ने कहा कि उपभोक्ता पर समग्र रूप से कोई अतिरिक्त भार नहीं पड़ेगा।

इसी तरह अब अनब्रान्डेड पेट्रोल और डीजल पर क्रमश: 1.4 रुपये और 1.8 रुपये प्रति लीटर का मौलिक उत्पाद शुल्क (बीईडी) लगेगा। इसी तरह अनब्रांडेड पेट्रोल और डीजल पर विशेष अतिरिक्त उत्पाद शुल्क (एसएईडी) भी अब क्रमश: 11 रुपये और 8 रुपये प्रति लीटर कर दिया गया है।

यही नहीं फॉर्म सेस शराब पर सौ प्रतिशत सेस लगाया जाएगा। इसी तरह सोयाबीन और सूरजमुखी तेल पर 20 फीसदी और पाम ऑयल पर 17.5 फीसदी कृषि सेस लगाया गया है।

उल्लेखनीय है कि पेट्रोल और डीजल की कीमतें पहले ही आसमान छू रही हैं। ऐसे में सेस लगने से अगर कीमतें बढ़ती हैं तो आम आदमी पर और अधिक बोझ पडेगा। फिलहाल दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 86.30 रुपये प्रति लीटर और डीजल 76.48 रुपये प्रति लीटर है। बताते चलें कि कोरोना महामारी के चलते दुनिया में कच्चे तेल की मांग घटी है और कीमतों में भी कमी हुई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button