इस्लामिक आतंकवाद: सुरक्षा एजेंसियों ने ध्वस्त किये IS और अलकायदा के खतरनाक मनसूबे

यूपी, जम्मू-कश्मीर और पश्चिम बंगाल में एक साथ कार्रवाई, दबोचे गए कई खूंखार आतंकी, दहशत में दहशतगर्द

लखनऊ।। भारत सदियों से इस्लामिक आतंकवाद का शिकार होता रहा है। यह सिलसिला आज भी कायम है। इस्लामिक स्टेट और अलकायदा जैसे वैश्विक आतंकी संगठनों के साथ ही जमात-उद-दावा, जैस-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तोयबा आदि पाकिस्तानी आतंकी संगठन भारत को तबाह करने का मंसूबा पाले हुए हैं। रविवार को जम्मू-कश्मीर, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल से धरे गए आतंकियों के मनसूबे भी खतरनाक थे। उनके निशाने पर सत्तारूढ़ दल के कुछ शीर्ष नेता थे। ये आतंकी 15 अगस्त से पहले यूपी को दहलाने की फिराक में थे।

सुरक्षा एजेंसियों ने कश्मीर घाटी, यूपी से लेकर पश्चिम बंगाल तक ताबड़तोड़ छापेमारी कर इन खूंखार वैश्विक आतंकी संगठनों के नापाक मंसूबों को नाकाम कर दिया। यूपी एटीएस ने रविवार को राजधानी लखनऊ में अलकायदा समर्थित ‘अंसार गजवातुल हिंद’ से जुड़े दो आतंकवादियों दुबग्गा निवासी मिनहाज अहमद और मड़ियांव के रहने वाले मसीरुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया। ये आतंकी 15 अगस्त से पहले लखनऊ समेत कई शहरों दहलाने की योजना पर अमल करने की तैयारियों में जुटे थे।

एडीजी लॉ के मुताबिक़ गिरफ्तार आतंकी अलकायदा के यूपी मॉड्यूल के मुखिया उमर हलमंडी के निर्देश पर अपने साथियों की मदद से आगामी 15 अगस्त को प्रदेश के विभिन्न शहरों, खासकर लखनऊ के महत्वपूर्ण स्थानों, स्मारकों और भीड़भाड़ वाले इलाकों में विस्फोट करने और मानव बम के जरिए आतंकवादी घटनाओं को अंजाम देने की तैयारी कर रहे थे। उन्होंने बताया कि इसमें लखनऊ तथा कानपुर के कुछ अन्य लोग भी शामिल हैं।

इसी तरह रविवार को ही कोलकाता के हरिदेवपुर इलाके से जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के तीन संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया। इस ऑपरेशन को कोलकाता पुलिस के विशेष कार्य बल (एसटीएफ) ने अंजाम दिया। जेएमबी के ये तीन संदिग्ध आतंकवादी कुछ महीनों से किराए के एक मकान में रह रहे थे। कोलकाता पुलिस एसटीएफ के जॉइंट सीपी के मुताबिक़ एसटीएफ को आतंकियों के पास से जिहादी साहित्य के साथ एक डायरी भी मिली है जिसमें जेएमबी के कई अहम दस्यों के नाम और नंबर लिखे हैं। उनके फेसबुक अकाउंट्स का भी विश्लेषण किया गया है।

उल्लेखनीय है की खूंखार वैश्विक आतंकी संगठन आईएसआईएस भारत में जेहाद के लिए मुस्लिम युवाओं को भड़काने और उन्हें अपने संगठन में भर्ती करने की योजना पर काम कर रहा है। एनआईए ने रविवार को दक्षिणी कश्मीर के श्रीनगर और अनंतनाग में सात स्थानों पर एक साथ दबिश देकर आईएस के मंसूबे को नाकाम कर दिया। इस आपरेशन में एनआईए ने बड़ी तादाद में आपत्तिजनक दस्तावेज और मोबाइल फोन, टैबलेट, लैपटॉप, हार्ड डिस्क जैसे डिजिटल उपकरण और आईएसआईएस का लोगो लगे टी-शर्ट बरामद किये हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button