कोरोना इंजेक्शन लगवाने के बाद भी रखें इन बातों का ख्याल, नहीं तो हो सकता है संक्रमण

इंजेक्शन लगवाने के बाद यदि आपको हल्का बुखार, शरीर में दर्द और थकान जैसा महसूस हो रहा है तो इससे घबराने की जरूरत नहीं है। बुखार और शरीर में दर्द टीकाकरण की आम बात हैं।

अजब-गजब॥ कोविड-19 संकट से बचने के लिए वैक्सीनेशन को सबसे जरूरी बताया जा रहा है परन्तु सिर्फ इंजेक्शन लगवाने से काम चल जाएगा ऐसा नहीं है। टीका लेने के बाद भी आपको कई बातों का ख्याल रखना होगा नहीं तो आप संक्रमण की चपेट में आ सकते हैं। क्योंकि कोविड-19 वैक्सीन लगवाने के कुछ हफ्ते बाद हमारे जिस्म में प्रतिरोधक क्षमता बनती है, तत्काल नहीं।

Corona injection

इसका उद्देश्य है कि वैक्सीनेशन के बाद भी कुछ दिनों तक व्यक्ति के कोरोना संक्रमित होने की है। इसलिए वैक्सीनेशन के बाद भी प्रमुख एहतियाती उपायों का पालन किया जाना चाहिए। खासकर पब्लिक जगहों पर मास्क पहने रखना, हाथ की सफाई, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना बहुत आवश्यक है।

इंजेक्शन लगवाने के बाद यदि आपको हल्का बुखार, शरीर में दर्द और थकान जैसा महसूस हो रहा है तो इससे घबराने की जरूरत नहीं है। बुखार और शरीर में दर्द टीकाकरण की आम बात हैं। कोरोना ही नहीं, किसी और बीमारी का भी टीका लगता है तो कुछ लोगों बुखार जैसे साइड इफेक्ट देखने को मिलते हैं। ये समस्या चंद दिनों तक रहती है और फिर स्थिति सामान्य हो जाती है। वहीं, वैज्ञानिकों की माने तो इंडिया में टीकाकरण में यूज हो रहे दोनों टीके कोवैक्सीन और कोविशील्ड पूरी तरह से सुरक्षित हैं।

इंजेक्शन लगवाने से पहले भी लोगों को कुछ बातों का ध्यान रखना अहम है। इंजेक्शन लगवाने वाला व्यक्ति अगर पहले से कोई दवा खा रहा है या फिर उसको कोई दिक्कत है तो वो पहले डॉक्टर से पारमर्श लेकर इंजेक्शन लगवा सकता है। टीका लगवाने से पहले अच्छी तरह से खाना खा लें और कोशिश करें कि नींद पूरी हो। शरीर थका हुआ नहीं होना चाहिए। यदि कैंसर या फिर सुगर से पीड़ित है तो इन पर नियंत्रण रखना महत्वपूर्ण है। वहीं, उन लोगों को वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए जो बीते डेढ़ महीने में कोरोना से संक्रमित हुए हैं या फिर जिनको ब्लड प्लाज्मा चढ़ाया गया हो।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button