बिहार में दिखी खाकी की गुंडागर्दी, पहले मारी ठोकर- फिर कर दी ये काम

पिटाई होती देख स्थानीय लोग जब दौड़े तो वाहन पर सवार अधिकारी अपने अन्य सहयोगियों के साथ भागने निकले। पिटाई करने वाले पुलिसकर्मी को लोगों ने घेर लिया तथा घंटों बंधक बनाकर जमकर हंगामा किया।

बेगूसराय।। बिहार के डीजीपी पुलिस को चाहे जितना भी पब्लिक फ्रेंडली होने का निर्देश दें लेकिन हमेशा वसूली में व्यस्त रहने वाली यहां की पुलिस मौका मिलते ही जमकर गुंडागर्दी भी करती है। कानून का मजाक उड़ाने का ऐसा मामला शनिवार को एनएच-31 के लाखो ओपी क्षेत्र में दिखा। जहां पहले तो खगड़िया में पदस्थापित एक सरकारी हाकिम की गाड़ी ने सड़क किनारे खड़ी कार में पीछे से ठोकर मार दी। ऊपर से कार चालक ने जब विरोध जताया तो वर्दी के नशे में चूर अमित कुमार नाम के पुलिसकर्मी ने उस चालक की जमकर पिटाई कर दी।

पिटाई होती देख स्थानीय लोग जब दौड़े तो वाहन पर सवार अधिकारी अपने अन्य सहयोगियों के साथ भागने निकले। पिटाई करने वाले पुलिसकर्मी को लोगों ने घेर लिया तथा घंटों बंधक बनाकर जमकर हंगामा किया। बाद में पहुंची नगर थाना की पुलिस ने किसी तरह समझा-बुझाकर मामले को शांत कराया तथा गंभीर रूप से घायल चालक को इलाज के लिए भेजा ।

घटना लाखो ओपी क्षेत्र के खातोपुर के समीप की है। घायल चालक लाखो ओपी क्षेत्र की बहदरपुर पंचायत स्थित भगवानपुर निवासी दीपक कुमार है। कार ड्राइवर दीपक कुमार ने बताया कि वह अपनी गाड़ी ठीक करवा कर एनएच के साइड में लगाए हुए था। तभी गाड़ी ने पीछे से ठोकर मार दी और पुलिसकर्मी ने वर्दी की धौंस दिखाते हुए पीटना शुरू कर दिया।

विरोध कर रहे स्थानीय लोगों का कहना है कि अपनेे को खगड़िया में पोस्टेड बताने वाले पुलिसकर्मी अपने साहब के साथ बेगूसराय की ओर जा रहा था। उसी दौरान पहले तो खड़ी कार में ठोकर मार दी और उल्टे ड्राइवर को पीट-पीटकर लहूलुहान कर दिया। घायल ड्राइवर का सही ढंग से इलाज तथा दोषी पुलिसकर्मी पर कार्रवाई होनी चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button