50 बच्चों के साथ जेई ने किया गंदा काम, सीबीआई ने पीपीई किट पहनकर लिया हिरासत में

गुरुवार को निर्धारित समय पर सीबीआई की पांच सदस्यीय टीम  मंडल कारागार पहुंची और आरोपी जेई राम भवन हिरासत में ले लिया। पांच सदस्यीय टीम में सिर्फ एक ने पीपीई किट पहन

बांदा। आधा सैकड़ा से ज्यादा बच्चों से यौन शोषण के आरोपी जेई रामभवन को मंडल कारागार से लेने के लिए सीबीआई पीपीई किट पहनकर पहुंची। आरोपी जेई को न्यायालय द्वारा 5 दिन का रिमांड दिया गया है।
CBI detained JE wearing PPE kit
गुरुवार को निर्धारित समय पर सीबीआई की पांच सदस्यीय टीम  मंडल कारागार पहुंची और आरोपी जेई राम भवन हिरासत में ले लिया। पांच सदस्यीय टीम में सिर्फ एक ने पीपीई किट पहन रखी थी जबकि 3 स्वास्थ्य कर्मी 108 एंबुलेंस के साथ आए थे उन्होंने ही एंबुलेंस में आरोपी जेई को बैठाया। जिस समय आरोपी को जेल से बाहर निकाल कर एंबुलेंस में बैठाया गया उस समय वह पीपीई किट नहीं पहने था बल्कि उसन अपना मुंह कंबल से ढक लिया था। वैसे कोरोना संक्रमित जेई को सुरक्षा की दृष्टि से कोरोना पीपीई किट पहनाई जानी चाहिए थी।
बताते चले कि, सीबीआई ने बाल यौन शोषण और उनकी अश्लील वीडियो व फोटो पॉर्न वेबसाइट को बेचने से जुड़ा एक मामला 31 अक्टूबर को दर्ज कर चित्रकूट में तैनात सिंचाई विभाग के जेई रामभवन को आधिकारिक तौर पर 16 नवंबर को गिरफ्तार कर बांदा की पॉक्सो अदालत में 18 नवंबर को पेश किया था और पांच दिन के लिए उसे अपनी हिरासत में लेने के लिए अर्जी दाखिल की थी।
तब से जेई 30 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में जेल में बंद था। हिरासत पर लेने की अर्जी पर सुनवाई मंगलवार को पूरी हो गई थी, मगर फैसला बुधवार शाम साढ़े चार बजे सुनाया गया। इस बीच 23 नवंबर को आई जांच रिपोर्ट में आरोपित जेई रामभवन कोरोना वायरस से संक्रमित भी पाया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button