UP में कोराना ने फिर बनाया रिकॉर्ड, 24 घंटे में आये 12787 नये मरीज 48 लोगों की हुई मौत

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि राजधानी लखनऊ के बाद प्रयागराज में पिछले 24 घंटे में 1460 नये केस आए हैं।

लखनऊ।। राजधानी लखनऊ समेत कई शहरों में रात्रि पाबंदी लागू होने के बाद भी उत्तर प्रदेश में कोरोना का संक्रमण रोज नया रिकॉर्ड बना रहा है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश के अंदर 12,787 नये संक्रमित मिले हैं, जो अब तक के सर्वाधिक संक्रमित मिलने मिलने का रिकॉर्ड है। इनमें लखनऊ की संख्या सबसे अधिक 4,059 है।

 

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि राजधानी लखनऊ के बाद प्रयागराज में पिछले 24 घंटे में 1460 नये केस आए हैं। इसी तरह वाराणसी में 983, कानपुर नगर में 706, गोरखपुर में 422, मेरठ में 236, झांसी में 235, गौतमबुद्धनगर में 221, बलिया में 188, जौनपुर में 186, मुजफ्फरनगर में 161, गाजियाबाद में 159, बरेली में 144, गाजीपुर में 140, बाराबंकी में 139, रायबरेली में 127 और मथुरा में 123 नये मरीज मिलने से पूरे प्रदेश में दहशत का माहौल है।

प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटे में उप्र में 48 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। इनमें सबसे अधिक 23 लोगों ने लखनऊ में दम तोड़ा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में इस समय एक्टिव केस की संख्या 58,801 है। वहीं बीते 24 घंटे में हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने वालों की संख्या सिर्फ 2207 ही बताई जा रही है।

मुख्यमंत्री योगी खुद मैदान में–

उप्र में कोरोना वायरस की दूसरी लहर बेहद ही भयावह हो गई है। पिछले एक सप्ताह से संक्रमण में लगातार आ रही तेजी के कारण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद मैदान में उतर पड़े हैं। शुक्रवार को उन्होंने प्रयागराज और वाराणसी में कोरोना की स्थिति और उसके नियंत्रण को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की। आज शनिवार को वह गोरखपुर में हैं। प्रदेश के कई मंत्रियों को भी जिलों में भेजा जा रहा है। फिर भी कोई सकारात्मक नतीजा नहीं दिख रहा है।

इस बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देश पर मुख्यमंत्री योगी ने प्रदेश में 11 से 14 अप्रैल तक टीका उत्सव मनाने का निर्णय लिया है। इसको विशेष अभियान की तरह संचालित के लिए प्रदेश भर में तैयारियां चल रही हैं।

प्रस्तावित टीका उत्सव के दौरान मुख्यमंत्री योगी राज्यपाल आनंदीबेन पटेल की उपस्थिति में प्रदेश के विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं, नगर निगमों के महापौर व पार्षद और धर्मगुरुओं से प्रदेश में कोविड-19 टीकाकरण तथा कोरोना से बचाव को लेकर मंत्रणा करेंगे। इसके अलावा मुख्यमंत्री के निर्देश पर राज्य सरकार ने लखनऊ के बलरामपुर अस्पताल में 300 बेड कोविड के लिए आरक्षित कर दिया है। लखनऊ में एरा मेडिकल कालेज और टीएस मिश्रा मेडिकल कॉलेज को भी कोविड अस्पताल बना दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button