Lucknow: बिजली का तार टू​टकर गिरने से 10 बीघा फसल हुई राख, दूसरी जगह जलीं 12 दुकानें

काकोरी थाना क्षेत्र स्थित भलिया गांव में गेहूं के खेत में शार्ट सर्किट से करीब 10 बीघे की खड़ी फसल जलकर राख हो गई।

लखनऊ।। गर्मी का मौसम आते ही अब आग लगने का सिलसिला शुरू हो गया है। बुधवार को राजधानी में अलग-अलग जगह लगी आग से लाखों का नुकसान हुआ है। कई बीघा की फसल जलकर राख हो गई।

रायबरेली रोड पर उतरेटिया पुल के पहले फुटपाथ पर आग लग गई। देखते ही देखते करीब 12 से अधिक दुकानें जलकर राख हो गईं। इस अग्निकांड में मोहम्मद जाबिर की (बाटी चोखा), मार्केंडेय प्रसाद (बाटी चोखा), लल्लन गुप्ता (फल), लालू गुप्ता (बाटी चोखा), विजय गुप्ता (फल की दुकान), लाला (पान की गुमटी), कुलदीप कुमार, सुनील चौरसिया (पान और स्टेशनरी की दुकान), राम सजीवन, राम विकास (चाय की दुकान) और मोहनल लाल की दुकानें जलकर स्वाहा हो गई।

पीजीआई थाना प्रभारी ने आनंद कुमार शुक्ला बताया कि दमकल की चार गाड़ियों की कड़ी मशक्कत के बाद आग को काबू में करने में सफलता मिली। अग्निकांड में 12 दुकानें व झोपड़ी जल गई। उन्होंने बताया कि किसी ने जलती हुई सिगरेट पीने के बाद फेंक दी थी।

दस बीघे की खड़ी फसल जली–

काकोरी थाना क्षेत्र स्थित भलिया गांव में गेहूं के खेत में शार्ट सर्किट से करीब 10 बीघे की खड़ी फसल जलकर राख हो गई। यह हादसा बिजली का तार टूटने से हुआ। ग्रामीणों ने आग को बुझाने की काफी मशक्कत की, लेकिन कामयाब नहीं हो सकें। आग की चपेट में आने से सुनिंदर सिंह, राकेश सिंह और ज्ञान सिंह समेत कई किसानों की करीब 10 बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई।

फ्रिज का कंप्रेशर फटने से धमाके के बाद लगी आग–

आर्य नगर में रहने वाले रमेश यादव की मोहल्ले में ही किराना की दुकान है। दुकान के नीचे बेसमेंट में गोदाम है। बुधवार को दुकान में रखी फ्रिज का कंप्रेशर तेज धमाके के साथ फट गया। देखते ही देखते उसमें आग लग गई। सूचना पाकर कुछ ही देर में नाका पुलिस और हजरतगंज फायर स्टेशन से दमकल की दो गाड़िया मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button