MP: जरा सी बात पर भाई बने जलाद, वायरल वीडियो में क्रूरता देख कांप उठेगी रूह

वीडियो में नजर आता है कि लड़कियों को युवकों ने तो बेरहमी से पीटा ही, लेकिन वहां मौजूद महिलाओं की भी इंसानियत मर गई, उन्होंने भी जमकर लाठी, पत्थर, लात और घूंसे बरसाए।

भोपाल।। मध्यप्रदेश के धार जिले के टांडा थाना के एक युवती के साथ हुई बर्बरता का वीडियो सामने आया है। यह पूरा मामला टांडा थाना के तहत ग्राम पीपलवा के ग्रामीणों की क्रूरता का है। इस वीडियो में कुछ लोग युवती को लाठी-डंडों से पीटते और उनके साथ जानवरों जैसा बर्ताव करते नजर आ रहे हैं। वीडियो वायरल होने के बाद प्रशासन मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने इस मामले में अब तक सात लोगों को गिरफ्तार किया है।

जानकारी के मुताबिक, युवती को उनके चचेरे भाई और रिश्तेदार लाठी-डंडों से पीटते रहे। वीडियो में नजर आता है कि लड़कियां चिल्लाती रहीं, लेकिन इंसानों से हैवान बने लोगों का दिल रत्ती भर नहीं पसीजा। रोती-बिलखती लड़कियां उनसे रहम की भीख मांगती रहीं, लेकिन वहां रहम नहीं लाठी डंडों से पिटाई मिली।

वीडियो में नजर आता है कि लड़कियों को युवकों ने तो बेरहमी से पीटा ही, लेकिन वहां मौजूद महिलाओं की भी इंसानियत मर गई, उन्होंने भी जमकर लाठी, पत्थर, लात और घूंसे बरसाए। हैरान कर देने वाली बात यह है कि वहां मौजूद लोगों ने इस घटना का वीडियो मोबाइल में कैद किया, लेकिन किसी ने लड़कियों को बचाने की जहमत नहीं उठाई।

लड़कियों ने लगाया यह आरोप–

वीडियो कुछ दिनों पुराना बताया जा रहा है। बर्बरता की शिकार दोनों युवतियां रिश्ते में चचेरी बहनें हैं और दोनों का रिश्ता अलीराजपुर के जोबट में हुआ है। लड़कियों का आरोप है कि मौजूद लोगों ने स्कूल के पास रोककर उन्हें पूछा कि आप मामा परिवार के दो लड़कों से फोन पर बातचीत क्यों करती हो? सिर्फ फोन पर बात करने की बात को लेकर लोगों ने बवाल खड़ा कर दिया और दोनों को जमकर पीटा गया दोनों लड़कियां डर गई, जिस वजह से उन्होंने शिकायत तक दर्ज नहीं करवाई।

टांडा थाना प्रभारी विजय वास्कले ने बताया कि वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने घटना पर संज्ञान लिया। लड़कियों को थाने लाकर पूछताछ की। पूछताछ के दौरान लड़कियों ने बताया कि उनके साथ परिवार वालों के जरिये ही मारपीट की गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button