राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण ने किया बड़ा खुलासा, बताया- सितम्बर तक 71 बाघ खो चुके हम

इस वर्ष अर्थात जनवरी से लेकर अगस्त 2020 तक कितने बाघों की मृत्यु हुई है। इसके जवाब में प्राधिकरण ने बताया कि अब तक 71 बाघ इस वर्ष देश से कम हो चुके हैं।

नोएडा।। बाघ और अन्य जंगली जानवरों को बचाने के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है। इसके बावजूद इस वर्ष एक जनवरी से सितम्बर माह तक 71 बाघों की मृत्यु चुकी है।

यह जानकारी राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण ने एक आरटीआई के जवाब में दिया है। आरटीआई कार्यकर्ता रंजन तोमर ने एनटीसीए से जानकारी मांगी थी कि इस वर्ष अर्थात जनवरी से लेकर अगस्त 2020 तक कितने बाघों की मृत्यु हुई है। इसके जवाब में प्राधिकरण ने बताया कि अब तक 71 बाघ इस वर्ष देश से कम हो चुके हैं।

एनटीसीए ने जो जानकारी दी उसके अनुसार जनवरी में 11 , फरवरी में 4 , मार्च में 4 , अप्रैल में 15 , मई में 12 , जून में 10, जुलाई में 7 बाघ मृत्यु को प्राप्त हुए है, जबकि अगस्त में 6 बाघ मरे हैे। जानकारी देने तक सितम्बर में भी एक बाघ मृत्यु को प्राप्त हुआ।

ज़्यादातर बाघों की मृत्यु का कारण अभी नहीं जांच पाई एजेंसियां प्राधिकरण की स्वयं की घोषणा के अनुसार 71 में से तकरीबन साठ बाघों की मृत्यु का कारण अभी जांच के दायरे में हैं। उनके मौत के कारण पता नहीं है। आठ बाघों की प्राकृतिक मृत्यु हुई है और 3 का शिकार हुआ है।

टाइगर रिज़र्व में मरे ज़्यादा बाघ, बाहर कम जानकारी के अनुसार टाइगर रिज़र्व में 49 बाघों की मृत्यु हुई है जबकि बाहर 22 बाघों की मृत्यु अंकित की गई, ऐसे में सवाल यह भी उठता है के हमारे टाइगर रिज़र्व में भी यदि बाघ खुले में विचरण नहीं कर सकते तो फिर कहाँ कर सकते हैं ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button