उत्तर प्रदेश में प्रदर्शन कर रहे सपा कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज, दर्जनों प्रदर्शनकारी हुए घायल

इतना ही नहीं किसान बदहाली का शिकार है, सरकार अभी तक गन्ना किसानों का बकाया अदा नहीं कर सकी। खाद, बीज, कीटनाशक का संकट है। किसान को सफल लागत का मूल्य भी नहीं मिल रहा है।

बांदा।। सरकार की नीतियों के खिलाफ समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को कलेक्ट्रेट परिसर के बाहर अशोक लाट के पास सड़क किनारे प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने बर्बर लाठीचार्ज किया और सपा के कई पदाधिकारियों समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।

समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष विजय करण यादव के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। इनमें बड़ी संख्या में कार्यकर्ता हाथों में कटोरा लेकर भीख मांग रहे थे।

इस संबंध में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने महामहिम राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन भी सौंपा। जिसमें कहा गया है कि प्रदेश में इस समय अराजकता की स्थिति हैै। कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा है, कई हजार मौतें हो चुकी हैं। अस्पतालों में इलाज की व्यवस्था नहीं है। दो मंत्री भी अपनी जान गवां बैठे हैं जबकि कई अन्य मंत्री संक्रमित पाए गए हैं। वेन्टीलेटर और पीपीई किट का अभाव है, जहां वेंटीलेटर है वहां स्टाफ नहीं है। स्वास्थ्य सेवाएं ध्वस्त हो गई हैं।

इतना ही नहीं किसान बदहाली का शिकार है, सरकार अभी तक गन्ना किसानों का बकाया अदा नहीं कर सकी। खाद, बीज, कीटनाशक का संकट है। किसान को सफल लागत का मूल्य भी नहीं मिल रहा है। उनकी आय दुगनी करने का झूठा वादा किया है। किसानों की यह हालत, बेरोजगारी से बढ़ती जा रही है। ऐसी स्थिति में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए।

प्रदर्शन के दौरान वहां पहुंचे सिटी मजिस्ट्रेट व सीओ सिटी ने सपा कार्यकर्ताओं प्रदर्शन स्थागित करने को कहा तो इस दौरान पदाधिकारियों की अफसरों से तीखी नोंकझोक देखने को मिली। इसके बाद पुलिस ने कार्यकर्ताओं को जमकर लाठियां बरसाई। कई पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button