Siyasat: किसान आंदोलन पर सरगर्मी तेज, टिकैत का दावा कई भाजपा नेता देंगे इस्तीफा

Siyasat: नरेश टिकैत ने ट्वीट कर कहा है कि मेरे पास आज कई भाजपा नेताओं का फोन आया है, उनका कहना है, भाई साहब हम भी इस्तीफा दे रहे हैं, पार्टी में रहकर यूं किसानों का अपमान होते नहीं देख सकते, अगर अब भी हम चुप रहे, तो आनेवाली पीढ़ी हमें कभी माफ नहीं करेगी।

नई दिल्ली। नये कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसान आंदोलन और सियासत (Siyasat) के बीच आंदोलनरत किसानों को अब समाज के हर तबके का समर्थन मिल रहा है। विपक्षी पार्टियां पहले से ही किसानों का समर्थन कर रही हैं। दो दिनों से विपक्षी नेता भी गाजीपुर बार्डर पर पहुंचकर धरने में शामिल हो रहे हैं। इस बीच भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकट ने दावा किया है कि किसानों के मुद्दे पर कई भाजपा नेता पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं। टिकैत के इस दावे ने भाजपा की चिंताएं बढ़ दी हैं। (Siyasat)

Naresh tikait - Siyasat

नरेश टिकैत ने ट्वीट कर कहा है कि मेरे पास आज कई भाजपा नेताओं का फोन आया है, उनका कहना है, भाई साहब हम भी इस्तीफा दे रहे हैं, पार्टी में रहकर यूं किसानों का अपमान होते नहीं देख सकते, अगर अब भी हम चुप रहे, तो आनेवाली पीढ़ी हमें कभी माफ नहीं करेगी। नरेश टिकैत के इस ट्वीट के बाद भाजपा चिंताग्रस्त नजर आ रही है। (Siyasat)

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने भी आज ट्वीट कर केंद्रीय गृह मंत्री पर हमला बोला है। राकेश टिकट ने कहा है कि अमित शाह भारत के इतिहास में सबसे ‘दुर्बल-विफल’ गृह मंत्री हैं। इस समय राकेश टिकैत किसान आंदोलन का चेहरा बन चुके हैं। (Siyasat)

उल्लेखनीय है कि आज महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर किसान दिनभर के उपवास पर हैं। इसके बाद पंजाब और हरियाणा के किसान दिल्ली कूच करेंगे। गाजीपुर बार्डर पर इस समय किसानों का हुजूम नजर आ रहा है। गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद प्रशासन को गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों का प्रदर्शन खत्म कराने का आदेश मिला था, लेकिन किसान नेता राकेश टिकट के आंशुओं ने बाजी पलट दी और केंद्र व यूपी सरकार बैकफुट पर आ गई।

Indian Farmers: किसान महापंचायत में उमड़ा जनसैलाब, जारी रहेगा आंदोलन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button