पीछा न करने की धमकी देकर पुलिसकर्मियों पर चलाई गोली, फिर बदमाशों के साथ हुआ ये कांड

पुलिस की जवाबी फायरिंग में दो बदमाश घायल हो गये। घायलों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया जिनको प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने छुट्टी दे दी।

नई दिल्ली। बाहरी उत्तरी जिले के समयपुर बादली इलाके में बदमाशों और पुलिस के बीच आमने सामने गोलियां चली। मुठभेड़ में पुलिसकर्मी गोली लगने से बाल-बाल बच गये। पुलिस की जवाबी फायरिंग में दो बदमाश घायल हो गये। घायलों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया जिनको प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने छुट्टी दे दी।
Samaypur Badli area Encounter
बदमाशों की पहचान विकासपुरी उत्तम नगर निवासी हैप्पी उर्फ अमित व शाहबाद डेयरी निवासी पवन उर्फ राहुल के रूप में हुई है। पुलिस ने दोनों बदमाशों के पास से एक देशी कट्टा, एक पिस्टल, पांच खाली कारतूस के खोल, 10 मोबाइल फोन व एक बाइक बरामद की है। दोनों बदमाशों पर चार दर्जन से ज्यादा विभिन्न थानों में केस दर्ज हैं। बदमाशों ने कुछ दिन पहले ही शाहबाद डेयरी इलाके में एक व्यक्ति को गोली मारकर हजारों रुपये लूटे थे। फिलहाल पुलिस आरोपितों से पूछताछ कर रही है।
डीसीपी गौरव शर्मा के अनुसार, कुछ समय से समयपुर बादली इलाके में झपटमारी, चोरी व लूटपाट के कई मामले सामने आ रहे थे। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए समयपुर बादली एसएचओ अशीष दुबे की देखरेख में इलाके में बाइक पेट्रोलिंग बढ़ा दी।

ऐसे पकड़े गये बदमाश

पुलिस अधिकारियों ने गत 29 की तड़के 4.29 बजे समयपुर बादली थाने में तैनात हेडकांस्टेबल नीरज, कांस्टेबल प्रदीप, दिनेश व अमित रोहिणी सेक्टर-18 के पास वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। इसी बीच उन्होंने देखा काले रंग की प्लसर बाइक पर सवार दो बदमाश पुलिस को देखकर यू टर्न लेकर भाग रहे है। चारों पुलिसकर्मियों ने आरोपितों का पीछा किया। बदमाश सूखे नहर के रास्ते से भागने लगे। कुछ दूर चलने पर रास्ता ठीक न होने के कारण बदमाशों की बाइक गिर गई।

पीछा न करने की धमकी देकर पुलिसकर्मियों पर चलाई गोली

बदमाशों के नीचे गिरते ही पुलिसकर्मियों ने दोनों को सरेंडर करने की बात कही। जिसपर बदमाशों ने पुलिसकर्मियों को पीछा न करने की धमकी देकर पुलिस टीम पर गोलियां चला दी। एक एक गोली कांस्टेबल प्रदीप के कान के पास से गुजरी, इसी बीच बदमाशों ने कांस्टेबल दिनेश के उपर गोली चलाई। कांस्टेबल दिनेश भी बाल बाल बच गया।
इधर, कॉन्स्टेबल अमित ने जान की परवा न करते हुए बदमाशों को पकड़ने के लिये आगे दौड़ा जिसपर बदमाशों ने उसपर भी गोली चलाई, लेकिन कांस्टेबल अमित ने फिल्मी अंदाज में नीचे झुकते हुए खुदकों बचाया। इस बीच पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई में एक गोली चलाई। गोली बदमाश के हाथ पर लगी। गोली लगते ही दोनों बदमाशों के हाथ से हथियार नीचे गिर गये और पुलिस टीम ने दोनों बदमाशों को दबोच लिया। जांच करने पर पता चला है कि हैप्पी पर करीब 33 केस विभिन्न थानों में दर्ज है जबकि पवन के खिलाफ 26 केस दर्ज है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button