धर्म परिवर्तन के खिलाफ पारित अध्यादेश का सपा सदन में करेगी विरोध : अखिलेश

आजम खान के साथ हो रहे अन्याय की नहीं की जा सकती कल्पना 

लखनऊ। राज्यपाल आनंदीबेन के प्रदेश के चर्चित गैर कानूनी धर्म परिवर्तन के खिलाफ अध्यादेश के मसौदे को मंजूरी देने के बाद विरोधी दल कड़ा ऐतराज जता रहे हैं। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ‘उप्र विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश, 2020’ पर राज्यपाल द्वारा अपनी मुहर लगाने पर कहा कि पार्टी सदन में इसका विरोध करेगी। 
akhilesh
 
अखिलेश यादव ने शनिवार को यहां पार्टी मुख्यालय में कहा कि यह अध्यादेश जन मानस के खिलाफ है। लव जिहाद के खिलाफ कानून के नाम पर लोगों को प्रताड़ित करने की बड़ी साजिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि हम विधानसभा तथा विधान परिषद में ऐसे कानून का पूरा जोर लगाकर विरोध करेंगे।
 
उन्होंने कहा कि इस सरकार के लोग आपस में एक दूसरे पर आरोप लगाते हैं। यूपी सरकार ऐसी है जो किसी को भी फंसा सकती है और किसी को भी जेल भेज सकती है। आजम खान के साथ इतना अन्याय हो रहा है, जिसकी कल्पना नहीं की जा सकती। ये इसलिए क्योंकि उन्होंने अच्छी यूनिवर्सिटी बनाई थी। 
उन्होंने भाजपा पर झूठ बोलने का भी आरोप लगाया और कहा कि भाजपा की सरकार से अच्छा और बड़ा झूठ कोई बोल नहीं सकता। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के दावे पर अखिलेश ने कहा कि वह सोलर पैनल के बारे में नहीं जानते हैं। दस हजार मेगावाट बिजली बढ़ाने का झूठा वादा कर दिव्यांगों की बिजली काट दी गई। गांवों में नि:शुल्क बिजली क्यों नहीं दे रहे। मिस कॉल करके देश की सबसे बड़ी सरकार बना ली।
 
सपा अध्यक्ष ने कहा कि उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था तब तक बेहतर नहीं हो सकती जब तक किसानों का भुगतान नहीं होगा।  भाजपा सरकार लोगों का घर तोड़ रही है। लेकिन, खुद का नक्शा कब पास हुआ नहीं बताएंगे। किसान के ऊपर इतना अन्याय, ऐसी लाठी, इस तरीके से आतंकी हमला किसी सरकार के माध्यम से नहीं हुआ होगा जितना भाजपा सरकार में हो रहा है। उन्होंने कहा कि ये वही भाजपा है जिसने कभी किसानों को भरोसा दिलाया था कि सत्ता में आने पर वो सिर्फ उनका कर्ज माफ ही नहीं बल्कि आय दोगुनी भी करेगी।
 
केन्द्र तथा प्रदेश की भाजपा सरकार दमन पर उतर आई है। बेगुनाह किसानों के अपनी बात कहने पर उनके साथ सरेआम आतंकियों जैसा व्यवहार हो रहा है। अन्नदाता पर हर तरफ से हमला किया जा रहा है। समाजवादी पार्टी किसानों के साथ खड़ी है। हमारा केंद्र व राज्य सरकार से अनुरोध है कि किसानों को बाजार के हाल पर छोड़ दें। केंद्र व राज्य सरकार ने व्यापार तथा कारोबार सब चौपट कर रखा है। बड़े पैमाने पर व्यापार बर्बाद हुआ है।
 
उन्होंने कहा कि जेवर एयरपोर्ट के कोई खिलाफ नहीं है। एयरपोर्ट बने ये अच्छी बात है। लेकिन, एक जगह किसानों को लाठी से अपमानित किया जा रहा है और दूसरी जगह किसानों की जमीन छीन रहे हैं, उनको मुआवजा नहीं दे रहे हैं। हम चाहते हैं कि उनको उचित मुआवजा मिले।
 

पूर्व सांसद​ बिजेंद्र सिंह सहित कई नेता सपा में शामिल

इस मौके पर विभिन्न सियासी दलों के नेताओं ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। अखिलेश यादव की मौजदगी में चौधरी बिजेंद्र सिंह पूर्व सांसद अलीगढ़ (कांग्रेस), रामदुलारे भार्गव (बसपा), चौधरी लियाकत अली साहब पूर्व कैबिनेट मंत्री सहारनपुर और अब्दुल राशिद खां (बसपा) समेत अन्य नेता सपा में शामिल हुए।
 
इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि मैं सभी नेताओं का इस उम्मीद और भरोसे के साथ धन्यवाद करता हूं कि आने वाले समय में जो संघर्ष और लड़ाई है उसमें सपा का साथ देंगे। भरोसा है कि जब आप लोग साथ हो जाएंगे तो सपा एक बहुत बड़ी ताकत बन जाएगी और जो आज सत्ता में लोग हैं उन्हें हटाने में कामयाब होगी| 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button