इस देश के जंगलों में लगी भयानक आग, 60 हजार से अधिक जानवरों की जान को खतरा

डब्ल्यूडब्ल्यूएफ ऑस्ट्रेलिया के चीफ एक्जीक्यूटिव डरमोट ओ गोरमैन ने बताया है कि न्यू साउथवेल्स और क्वीनस्लैंड में आग लगने से पहले ही यहां पर कोआलाओं की संख्या तेजी से घट रही थी।

नई दिल्ली।। ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में एक साल पहले लगी आग के कारण 60,000 से अधिक कोआला जानवर प्रभावित हुए हैं। यह जानकारी वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर ऑस्ट्रेलिया की ओर से आज जारी की गई रिपोर्ट में दी गई है।

 

रिपोर्ट के अनुसार सबसे अधिक नुकसान दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया में स्थित कंगारू द्वीप में हुआ है। यहां पर 41,000 से अधिक कोआला प्रभावित हुए हैं। विक्टोरिया राज्य में 11,000 से अधिक कोआला प्रभावित हुए हैं जबकि न्यू साउथ वेल्स में लगभग 8,000 और क्वींसलैंड में लगभग 900 कोआला प्रभावित हुए हैं।

डब्ल्यूडब्ल्यूएफ ऑस्ट्रेलिया के चीफ एक्जीक्यूटिव डरमोट ओ गोरमैन ने बताया है कि न्यू साउथवेल्स और क्वीनस्लैंड में आग लगने से पहले ही यहां पर कोआलाओं की संख्या तेजी से घट रही थी। उन्होंने कहा कि मुसीबत में फंसे 60000 प्रभावित कोआलाओं की संख्या परेशान करने वाली है। इस संख्या को हम बर्दाशत नहीं कर सकते हैं।

दरअसल, दक्षिण-पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया में सितम्बर 2019 और इस साल लगी आग ने 24 मिलियन हेक्टेयर भूमि को नष्ट कर दिया और 33 लोगों की मौत हो गई थी। जुलाई में डब्ल्यूडब्ल्यूएफ की ओर से की गई प्राथमिक स्टडी में बताया गया था कि लगभग 3 बिलियन जनवरों, पक्षियों आदि आग की चपेट में आए हैं। सोमवार को जारी की गई अंतिम रिपोर्ट में बताया गया है कि कुल मिलाकर 143 मिलियन मैमल्स, 2.46 बिलियन रेपटाइल्स, 181 मिलियन बर्ड्स और 51 फ्रॉग्स आग से प्रभावित हुए हैं।

उल्लेखनीय है कि कोआला जानवर अधिकतर अपना समय पेड़ों पर बिताते हैं। आग के कारण इन लोगों को सांस लेने में समस्या, उल्टी की समस्या आई हैं। कुछ कोआला घायल भी हुए हैं और उनकी मौत भी हुई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button