प्रधानमंत्री ने साधा कांग्रेस पर निशाना, कहा- पुदुचेरी में निकाय चुनाव टालने वाले पढ़ा रहे लोकतंत्र का पाठ

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्रशासित प्रदेश बनने के बाद जम्मू-कश्मीर ने कम समय में त्रिस्तरीय पंचायत व्यवस्था को स्वीकार कर काम आगे बढ़ाया है।

नई दिल्ली।। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा कि पुडुचेरी में स्थानीय निकाय चुनाव कराने में रुकावट पैदा करने वाले लोकतंत्र का पाठ पढ़ा रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि देश में कोई लोकतंत्र नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार को जम्मू-कश्मीर में आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की। दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से स्थानीय लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि उनका सपना सभी को गुणवत्तापूर्ण एवं किफायती आवश्यक स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराना है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्रशासित प्रदेश बनने के बाद जम्मू-कश्मीर ने कम समय में त्रिस्तरीय पंचायत व्यवस्था को स्वीकार कर काम आगे बढ़ाया है। वहीं पुडुचेरी में सुप्रीम कोर्ट के पंचायत एवं नगर निकाय चुनाव कराने के निर्देश के बावजूद वहां की सरकार चुनाव नहीं करा रही है। उन्होंने कहा कि पुडुचेरी में सत्ता में कायम पार्टी स्थानीय निकाय चुनाव नहीं करा रही और उन्हें लोकतंत्र का पाठ पढ़ा रही है। पुडुचेरी में दशकों के इंतजार के बाद 2006 में स्थानीय निकाय चुनाव हुए थे और उनका कार्यकाल 2011 में ही खत्म हो गया था। इससे राजनीतिक दलों की कथनी और करनी का फर्क पता चलता है।

मोदी ने जम्मू-कश्मीर में हाल ही में हुए जिला विकास परिषद चुनाव का जिक्र करते हुए कहा कि लोगों का इन चुनावों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना भारत के लिए गर्व का क्षण है। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के लोग राज्य में लोकतंत्र को मजबूत कर रहे हैं। जीवन के सभी हिस्सों से लोगों ने विकास के लिए जिला स्तरीय चुनावों में मतदान किया है। जम्मू-कश्मीर ने महात्मा गांधी के ग्राम स्वराज के सपने को हासिल किया है।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी जम्मू कश्मीर में सरकार में थी लेकिन पार्टी ने गठबंधन तोड़ने का फैसला किया। पार्टी का मत था कि राज्य में पंचायत चुनाव कराए जाने चाहिए और लोगों को अपने प्रतिनिधियों का चुनाव करने का अधिकार मिलना चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दशकों तक सत्ता में रहने वाले लोगों ने सीमावर्ती इलाकों में विकास को अनदेखा किया है। सीमावर्ती इलाकों में गोलीबारी चिंता का सबब बना रहता है। इसके लिए सरकार सांबा, पूंछ और कठुआ में तेजी से बंकर बनाने का काम करा रही है।

मोदी ने कहा कि आज जम्मू-कश्मीर में आयुष्मान भारत- सेहत स्कीम शुरू की गई है। इस स्कीम से 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज मिलेगा तो जीवन में कितनी बड़ी सहूलियत आएगी। अभी आयुष्मान भारत योजना का लाभ राज्य के करीब 6 लाख परिवारों को मिल रहा था। सेहत योजना के बाद यही लाभ सभी 21 लाख परिवारों को मिलेगा। कार्यक्रम को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने भी संबोधित किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button