Uttarakhand में तीन सुरंगों को मिली मंजूरी, जाम से लोगों को मिलेगी मुक्ति

इनके प्रारूप का काम प्रारंभ हो गया है तथा प्रारूप तैयारी के बाद केंद्र से इस संबंध में अनुबंध किया जाएगा। इसी प्रकार रुद्रप्रयाग की सुरंग तथा पुल के संदर्भ में कार्रवाई की जा रही है।

देहरादून।। राष्ट्रीय राजमार्ग उत्तराखंड के मुख्य अभियंता एसके बिरला ने कहा है कि केंद्र सरकार ने उत्तराखंड के तीन प्रमुख नगरों मसूरी, रुद्रप्रयाग और बागेश्वर में सुरंग निर्माण को मंजूरी दी है। इनमें रुद्रप्रयाग की सुरंग पुल की औपचारिकताएं पूरी कर दी गई है, जिसके लिए शीघ्र निविदा जारी कर दी जाएगी। मुख्य अभियंता एसके बिरला के अनुसार रुद्रप्रयाग संरग का काम शीघ्र शुरू हो जाएगा, वहीं मसूरी तथा बागेश्वर की सुरंग के लिए केंद्र सरकार द्वारा स्वीकृति दे दी गई है।

इनके प्रारूप का काम प्रारंभ हो गया है तथा प्रारूप तैयारी के बाद केंद्र से इस संबंध में अनुबंध किया जाएगा। इसी प्रकार रुद्रप्रयाग की सुरंग तथा पुल के संदर्भ में कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि रुद्रप्रयाग से पोखरी तक 900 मीटर लंबी की सुरंग बनेगी तथा अलकनंदा नदी पर 200 मीटर लंबा पुल बनाया जाएगा। इस सुरंग और पुल के बनने से बद्रीनाथ से रुद्रप्रयाग जाने वाली रोड शहर से बाहर हो जाएगी। इससे बाजार में लगने वाले जाम से मुक्ति मिल जाएगी। इस व्यवस्था के लिए केन्द्र सरकार ने 400 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है।

मसूरी के हाथीपांव में बनने वाली सुरंग के लिए हाथीपांव से कैम्पटी फॉल के बीच सुरंग प्रस्तावित है। यह 2.74 किलोमीटर लंबी होगी। इसके निर्माण से मसूरी के लाइब्रेरी चौक और माल रोड में लगने वाले जाम समाप्त हो जाएगा। साथ ही साथ कैम्पटी फॉल की ओर जाने वाला यातायात टनल के माध्यम से निकल जाएगा।

राष्ट्रीय राजमार्ग के मुख्य अभियंता के अनुसार इस सुरंगों का प्रारूप तथा अन्य व्यवस्थाएं तैयार की जा रही है। मुख्य अभियंता राष्ट्रीय राजमार्ग के अनुसार बागेश्वर में बनने वाली सुरंग राष्ट्रीय राजमार्ग 309 ए के पास बन रही है जो बागेश्वर नगर से बाहर बनेगी। आठ- नौ सौ मीटर लंबी सुरंग का प्रारूप तैयार हो रहा है।

उसके बाद अन्य औपचारिकताएं पूरी होंगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कई सुरंगों का निर्माण होगा जिनमें राष्ट्रीय राजमार्ग 94 ऋषिकेश-गंगोत्री पर बनने वाली सुरंग शामिल है जो 440 मीटर लंबी तथा चंबा नगर के नीचे से निकाली जाएगी जिससे चंबा और उसके आसपास के क्षेत्रों में जाम से राहत मिलेगी। यह सभी सुरंगे ऑल वेदर रोड के तहत बनाई जा रही हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button