Tool Kit मामला : अब इन Activists पर कसा शिकंजा, गैर-जमानती वारंट जारी

Tool Kit : अब इन Activists पर कसा शिकंजा, गैर-जमानती वारंट जारी

नई दिल्ली। टूलकिट (Tool Kit) मामले में दिल्ली पुलिस ने जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि की करीबी मित्र Activists निकिता जैकब और शांतनु के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया है। टूलकिट केस में दोनों की तलाश जारी है। फिलहाल निकिता जैकब भूमिगत हैं और उन्होंने बाम्बे हाईकोर्ट में अपने खिलाफ जारी गैर-जमानती वारंट के खिलाफ ट्रांजिट बेल अर्जी दायर कराई है।

दिल्ली पुलिस ने जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि की करीबी मित्र निकिता जैकब और शांतनु शिकंजा कसना (Tool Kit) शुरू कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक़ दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की एक टीम 11 फरवरी को निकिता जैकब के घर पहुंची थीं। इस दौरान निकिता ने एक दस्तावेज पर साइन किए थे और जांच में सहयोग का वायदा भी किया था। इसके बाद ही वह भूमिगत हो गईं। आरोप है कि दिल्ली हिंसा से पहले पॉएटिक जस्टिस फाउंडेशन के संस्थापक एमओ धालीवाल ने निकिता जैकब से संपर्क किया था। गणतंत्र दिवस के पहले एमओ धालीवाल, निकिता और दिशा आदि ने एक ज़ूम मीटिंग की थी।
निकिता जैकब के साथ ही शांतनु भी दिल्ली पुलिस के निशाने पर हैं। शांतनु महाराष्ट्र के बीड जिले का निवासी है (Tool Kit) और दिशा तथा निकिता का करीबी है। शांतनु पर टूलकिट में कुछ चीजें जोड़ने और उन्हें आगे प्रसारित करने का आरोप है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम ने शांतनु के घर पर भी छापेमारी कर की थी, लेकिन वह फरार है।
उल्लेखनीय है कि दिल्ली पुलिस ने टूलकिट मामले में टूलकिट (Tool Kit) निर्माताओं के खिलाफ चार फरवरी को प्राथमिकी दर्ज की थी। दिशा रवि को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया गया है। दिशा पर टूलकिट का संपादन करने और उसे फैलाने का आरोप है।दिल्ली एक अदालत द्वारा उसे पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। दिल्ली पुलिस को अभी इस मामले में कुछ अन्य लोगों की भी तलाश है।
Social Media: दिशा रवि की गिरफ्तारी का देशव्यापी विरोध, लोगों ने बताया लोकतंत्र पर हमला

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button