मुंबई में भारी बारिश से हुए दो बड़े हादसे, 18 लोगों की गई जान

पश्चिम रेलवे के मुंबई संभाग के संभागीय रेल प्रबंधक ने ट्वीट किया, ‘‘कई जगहों पर जलजमाव होने के कारण अप और डाउन दोनों दिशाओं में पश्चिम रेलवे की कोई लोकल ट्रेन सेवा इस वक्त नहीं चलेगी।’’

मुंबई।। मुंबई और आस पास के इलाकों में रात भर लगातार भारी बारिश के कारण मकान ढह जाने की घटनाओं में 16 लोगों की मौत हो गई। भारी बारिश के कारण शहर में जलभराव की गंभीर समस्या पैदा हो गई है और लोकल ट्रेन सेवा तथा यातायात भी प्रभावित है। एक दमकल अधिकारी ने बताया कि मुंबई में माहुल इलाके के वाशी नाका में एक मकान की दीवार ढह जाने से सात लोगों की मौत हो गई और दो अन्य लोग घायल हो गए। उन्होंने बताया कि देर रात करीब एक बजे एक पेड़ के गिर जाने से उससे सटी दीवार ढह गई।

उन्होंने बताया कि घायलों को पास के राजावाड़ी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। नगर निकाय के एक अधिकारी ने बताया कि भारी बारिश के कारण मुंबई के विखरोली उपनगर में देर रात करीब ढाई बजे भूस्खलन के बाद पांच झोपड़ियों के ढह जाने से उसमें रहने वाले तीन लोगों की मौत हो गई और दो लोग घायल हो गए। घायलों को निकटवर्ती अस्पताल में भेजा गया है। रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि रात भर हुई भारी बारिश के कारण पटरियों में जलभराव के कारण वित्तीय राजधानी में मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे की उपनगरीय ट्रेन सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है।

ऑरेंज अलर्ट बताता है कि अधिकारियों को ‘‘तैयार रहना’’ चाहिए। आईएमडी ने सुबह जारी अपने बुलेटिन में बताया कि जलवायु परिस्थितियों में अचानक बदलाव के कारण मुंबई में छह घंटे में 100 मिमी से अधिक बारिश हुई। मौसम विभाग ने शहर के लिए बारिश के पूर्वानुमान को ‘ऑरेंज से रेड अलर्ट’ में भी बदल दिया है। आईएमडी ने बताया कि रविवार सुबह साढ़े छह बजे तक मुंबई और आसपास के इलाकों में पिछले 12 घंटों में 120 मिमी से अधिक बारिश हुई।

आईएमडी ने अनुमान जताया कि मुंबई में कुछ स्थानों पर ‘‘भारी से बहुत भारी’’ वर्षा होगी और अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा होगी। आईएमडी के अनुसार, अत्यधिक भारी वर्षा का अर्थ है कि 24 घंटों में 204.5 मिमी से अधिक की वर्षा और भारी वर्षा 115.6 मिमी से 204.4 मिमी वर्षा के बीच होती है। शानिवार देर रात तीन बजे जारी बुलेटिन के अनुसार, आईएमडी ने सांताक्रूज में 213 मिमी, बांद्रा में 197.5 मिमी और शहर के कोलाबा में 174 मिमी बारिश दर्ज की।

भारी बारिश के बाद पश्चिम रेलवे ने कई जगहों पर जलजमाव के कारण उपनगरीय ट्रेन सेवाओं को स्थगित करने की घोषणा की। पश्चिम रेलवे के मुंबई संभाग के संभागीय रेल प्रबंधक ने ट्वीट किया, ‘‘कई जगहों पर जलजमाव होने के कारण अप और डाउन दोनों दिशाओं में पश्चिम रेलवे की कोई लोकल ट्रेन सेवा इस वक्त नहीं चलेगी।’’ मध्य रेलवे ने बताया कि दादर, परेल, माटुंगा, कुर्ला, सायन, भांडुप और अन्य स्थानों पर पटरियों में जलभराव के कारण मुख्य लाइन पर सीएसएमटी और ठाणे के बीच ट्रेन सेवाएं स्थगित कर दी गईं। मध्य रेलवे के मुख्य प्रवक्ता शिवाजी सुतार ने कहा, ‘‘बांद्रा/गोरेगांव उपनगरीय सेवाओं सहित सीएसएमटी से वाशी तक सेवाएं भी बंद हैं।’’

पटरियों पर पानी भर जाने के कारण मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे दोनों पर लंबी दूरी की कई ट्रेनें प्रभावित हुईं। महामारी से पहले, मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे दोनों की 3,000 से अधिक उपनगरीय ट्रेन सेवाओं का प्रतिदिन 75 लाख से अधिक यात्री लाभ उठाते थे। महामारी के दौरान उपनगरीय ट्रेन सेवाएं आपातकालीन सेवाओं के कर्मचारियों और सरकारी कर्मचारियों तक ही सीमित हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button