Unlock-3: दिल्ली में पूरी तरह खोले गये शॉपिंग मॉल और मार्केट, दफ्तरों पर अब भी लागू 50 प्रतिशत की बाध्यता

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को एक डिजिटल प्रेसवार्ता के जरिए तीसरे चरण के अनलॉक की रूपरेखा के विषय में जानकारी साझा की है। जिसके तहत कल सुबह 5 बजे से कुछ गतिविधियों को अनुमति दी जा रही है।

नई दिल्ली।। दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में अनलॉक-तीन की घोषणा कर दी है। जहां अनलॉक- दो के तहत राज्य में सीमित छूट दी गयी थी। वहीं अब अनलॉक के तीसरे चरण में मॉल और बाजार खोलने की अनुमति के साथ कुछ और छूट को बढ़ा दिया गया है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को एक डिजिटल प्रेसवार्ता के जरिए तीसरे चरण के अनलॉक की रूपरेखा के विषय में जानकारी साझा की है। जिसके तहत कल सुबह 5 बजे से कुछ गतिविधियों को अनुमति दी जा रही है। जबकि कुछ चीजों को बेहद सख्ती के साथ बंद रखने का निर्देश दिया गया है।

दिल्ली सरकार ने जिन गतिविधियों को पूरी तरह से बंद रखने का निर्देश दिया है, उसमें स्कूल, कॉलेज और शिक्षण संस्थान हैं। इसके अलावा स्विमिग पूल, स्टेडियम बंद रहेगें। स्पोर्ट कॉप्लेक्स और सिनेमामा थियेटर, मल्टीप्लेक्स, वाटर पार्क, शादी घर, प्रदर्शनी, योगा इन्सटीयूट, जिम, स्पा, पब्लिक पार्क और गार्डेन को भी बंद रखने के निर्देश दिये गये हैं। इससे जुड़ी किसी भी तरह की गतिविधियों पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है।

वहीं दफ्तरों पर दूसरे चरण के लॉकडाउन की सभी शर्ते बरकरार रहेगी। सरकार दफ्तर पिछले बार की तरह ही रहेगी। प्रवाइवेट दफ्तरों को पचास प्रतिशत के साथ काम करेंगे, जिसकी समय सीमा नौ बजे से पांच बजे तक की होगी। हालांकि ज्यादा से ज्यादा वर्क फ्रॉ होम करने की सलाह दी है।

मॉल और बाजार पूरी तरह खोले जा रहे हैं। जबकि पिछले हफ्ते इन्हे ऑड इवेन के आधार पर रखा गया था। लेकिन इस बार इसे पूरी तरह खोला जा रहा है। लेकिन इन्हे खोलने के लिए सुबह 10 बजे से शाम 8 बजे तक की अनुमति होगी। वहीं रेस्ट्रोरेंट पचास प्रतिशत लोगों के साथ खोले जा सकते हैं। वीकली मार्केट अलाउ किये जा रहे हैं।

शादिया में भीड़ पर पूरी तरह से रोक है। 20 लोगों को ही शादी या अनत्येष्टी में उपस्थिति की परमिशन होगी। मेट्रो और बसों में भी पचास प्रतिशत लोग सफर कर सकेगें। इसके साथ टैक्सी में भी सीमित लोगों को ही अनुमति होगी। धार्मिक स्थल खोलो जा रहे हैं लेकिन विजिटर अलाउ नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘हम आने वाले एक सप्ताह इन गतिविधियों को देखेंगे। इस दौरान कोरोना के मामले नहीं बढ़ते हैं तो हम इसे चालू रखेंगे लेकिन लेकिन यदि केस बढ़ते हैं तो मजबूरी में हमको कुछ गतिविधियों को रोकना पड़ेगा। इसलिए व्यापारियों और उनके संगठनों से मेरी विनती है कि आप अपने स्तर पर भीड़ पर काबू रखें। मास्क लगाएं लोगों को इसके लिए प्रेरित करें। सुरक्षा का पूरा ख्याल रखें।’

उल्लेखनीय है कि कोरोना के मामलों में आ रही कमी को देखते हुए सरकार ने 7 जून को सरकार ने कुछ छूट के साथ लॉकडाउन को 14 जून के लिए बढ़ाया था। अब 14 जून के बाद दिल्ली सरकार ने इसमें कुछ और रियायतों को जोड़ दिया हैं। इसके पीछे मुख्य कारण दिल्ली में लगातार कम होते कोरोना संक्रमण के मामले हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button