UP: सड़क पर आग का गोला बनी रोडवेज बस, यात्रियों ने कूदकर बचाई जान

चकेरी थाना क्षेत्र में थाना से चंद कदम की दूरी पर मलिक गेस्ट हाउस के नजदीक मंगलवार को लीडर रोड डिपो की एक रोडवेज बस रुकी जो फतेहपुर जनपद से सवारियां भरकर आई थी।

कानपुर।। फतेहपुर से चलकर कानपुर आ रही रोडवेज बस सड़क पर आग का गोला बन गई। यात्रियों ने समझदारी दिखाते हुए किसी तरह से कूदकर अपनी- अपनी जान बचाई तो वहीं सूचना पर पहुंची दमकल की छह गाड़ियों की बदौलत टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग बुझाते- बुझाते बस पूरी तरह से जलकर खाक हो गई, हालांकि किसी भी यात्री के जानमाल की क्षति नहीं हुई है और हादसा टल गया।

चकेरी थाना क्षेत्र में थाना से चंद कदम की दूरी पर मलिक गेस्ट हाउस के नजदीक मंगलवार को लीडर रोड डिपो की एक रोडवेज बस रुकी जो फतेहपुर जनपद से सवारियां भरकर आई थी। बस को अन्तरराज्जीय बस अड्डा झकरकटी जाना था। सवारियां उतारने के बाद रोडवेज बस जैसे ही बढ़ी तो अचानक आग लग गई। ऐसे में चालक ने समझदारी दिखाते हुए फौरन बस को सड़क किनारे लगाया और यात्रियों को बाहर कूद जाने की गुहार लगाई। आग को देख खौफजदा यात्रियों ने बस से कूदकर किसी तरह से अपनी- अपनी जान बचाई और चालक ने घटना की सूचना दमकल विभाग को दी।

इस दौरान होटल के कर्मियों ने पानी डालकर आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन आग इतनी विकराल थी कि वह नाकाफी साबित हुआ। सूचना पर पहुंची दमकल की टीम ने छह फायर बिग्रेड की गाड़ियों की बदौलत कड़ी मशक्कत के बाद किसी तरह से आग पर काबू पाया, लेकिन तबतक बस जलकर खाक हो गई। थाना प्रभारी दधिबल तिवारी ने बताया कि जैसे ही घटना की जानकारी हुई फौरन मौके पर पहुंचा गया और दमकल टीम के साथ आग बुझाई गई।

बताया कि हादसे में बस जरुर जलकर खाक हो गई है, पर किसी भी यात्री के जानामाल की क्षति नहीं हुई है। बस में आग कैसे लगी यह जांच का विषय है, जिसको दमकल की टीम जांच करेगी, फिलहाल संभावना है कि आग शार्ट सर्किट से लगी होगी। बताया कि गनीमत रही कि हादसा उस समय हुआ जब चालक सवारियां उतारने के लिए सड़क पर बस को खड़ी करने जा रहा था, नहीं तो अगर हाइवे में तेज रफ्तार के दौरान हुआ होता तो जानलेवा साबित हो सकता था। रोजवेज के आलाधिकारियों को घटना से अवगत करा दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button