Uttarakhand: राहुल हत्याकांड का हुआ खुलासा, तीन आरोपित गिरफ्तार

उन्होंने बताया कि 6 अप्रैल को पुलिस ने अरुण पुत्र पवन निवासी सिकंदरपुर भैंसवाल, हाल निवासी ईदगाह चौक मंगल विहार तीसरी गली रुड़की,

हरिद्वार।। भगवानपुर पुलिस ने राहुल शर्मा हत्याकांड का पर्दाफाश करते हुए तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपितों पास से 2 अवैध तमंचे व 7 जीवित कारतूस बरामद किए हैं। भगवानपुर थाने में घटना का खुलासा करते हुए एसएसपी सैंथिल अवूदई कृष्णराज एस ने बताया कि 31 मार्च को विनोद पुत्र बिशम्बर शर्मा निवासी सिकंदरपुर ने अपने पुत्र राहुल शर्मा की अज्ञात व्यक्ति द्वारा गनशॉट से हत्या करने के संबंध में तहरीर दी थी। इस पर भगवानपुर पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर घटना के खुलासे के लिए अलग-अलग टीमें गठित की थी।

उन्होंने बताया कि 6 अप्रैल को पुलिस ने अरुण पुत्र पवन निवासी सिकंदरपुर भैंसवाल, हाल निवासी ईदगाह चौक मंगल विहार तीसरी गली रुड़की, मोहित पुत्र लोकेश निवासी सिकंदरपुर भैंसवाल के संबंध में पूछताछ की गई तो अरुण ने बताया कि होलिका दहन वाले दिन डीजे बजाने को लेकर मोहित और राहुल का झगड़ा हो गया था। राहुल ने हम दोनों को गालियां देते हुए अपमानित किया था। उसी दिन हमने राहुल की हत्या की योजना बनाई। अगले दिन मौका देखकर जब राहुल शराब पिए हुए था और होली खेलने के बाद घर के कमरे में अकेला बैठा था, तो मोहित ने अरुण को बताया कि राहुल अकेला है। इसके बाद उसे गोली मार दी।

एसएसपी के मुताबित पूछताछ में आरोपितों ने खुलासा किया कि तमंचे और कारतूस बंटी पुत्र सलेखचंद निवासी न्यू मार्केट थाना भगवानपुर हरिद्वार सप्लाई करता है। इसके बाद बंटी को गिरफ्तार किया गया। उसके कब्जे से एक 12 बोर का तमंचा बरामद किया गया। इस मुकदमे को अलग से पंजीकृत किया गया। पुलिस टीम में सीओ मंगलौर पंकज गैरोला, थानाध्यक्ष पीडी भट्ट, पुष्पेंद्र सिंह एसआई, चंद्रमोहन एसआई, संत सिंह जियाल एसआई, कांस्टेबल गीतम, ललित यादव, सुधीर चौधरी, विनोद कुमार व चालक लालचंद शामिल रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button