सेटेलाइट से कंट्रोल किया हथियार फिर परमाणु वैज्ञानिक के चेहरे पर किए 13 राउंड फायर

पिछले हफ्ते ईरान में परमाणु वैज्ञानिक मोहसिन फखरीजादेह की हत्या को लेकर ईरान के रेवोलुश्नरी गार्ड्स के डिप्टी कमांडर एडमिरल अली फदावी ने मीडिया को बताया कि वैज्ञानिक की हत्या आर्टीफीशियल इंटेलिजेंस से लैस सेटेलाइट कंट्रोल मशीन गन से की गई है।

तेहरान। पिछले हफ्ते ईरान में परमाणु वैज्ञानिक मोहसिन फखरीजादेह की हत्या को लेकर ईरान के रेवोलुश्नरी गार्ड्स के डिप्टी कमांडर एडमिरल अली फदावी ने मीडिया को बताया कि वैज्ञानिक की हत्या आर्टीफीशियल इंटेलिजेंस से लैस सेटेलाइट कंट्रोल मशीन गन से की गई है।

scientist-killing

एडमिरल अली फदावी ने बताया कि सिक्योरिटी डिटेल्स से पता लगा है कि 27 नवम्बर को फखरीजादेह तेहरान के बाहर एक हाईवे से गुजर रहे थे कि इसी दौरान एक मशीन गन को जूम इन कर उनके चेहरे पर 13 राउंड फायर किए गए।

मशीन गन को निसान पिकअप पर सेट किया गया था और उसका फोकस फखरीजादेह के चेहरे की ओर किया गया था। सेटिंग इस प्रकार से की गई थी कि फखरीजादेह की पत्नी को कोई नुकसान नहीं पहुंचे जो उनसे केवल 25 सेंटीमेंटर की दूरी पर थी। उन्होंने बताया कि इस गन को सेटेलाइट के माध्यम ऑनलाइन नियंत्रित किया जा रहा था। साथ ही टार्गेट करने के लिए इसमें एडवांस्ड कैमरा और आर्टीफिशियल इंटेलिजेंस का प्रयोग किया गया है।

फदावी ने बताया कि फखरीजादेह के हेड ऑफ सिक्योरिटी ने फखरीजादेह पर फेंकी गई चार गोलियों को पाया। हालांकि घटनास्थल पर कोई भी आतंकवादी नहीं था।

ईरान प्रशासन ने हत्या के लिए इजराइल और निर्वासित विपक्षी समूह पीपल्स मुजाहिदीन ऑफ इरान पर वैज्ञानिक की हत्या का आरोप लगाया है। स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार इजराइल में विकसित हथियार (मेड इन इजराइल) घटनास्थल से बरामद हुए हैं।

ईरान के रक्षा मंत्री आमिर हतामी ने कहा है कि वह उनके डिप्टियों में से एक थे। साथ ही उन्होंने परमाणु रक्षा के क्षेत्र में मंत्रालय के डिफेंस और रिसर्च एंड इनोवेशन ऑर्गेनाइजेशन के अध्यक्ष की भूमिका भी निभाई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button