West Bengal : किसान नेताओं की अपील – अपने राज्य को बचाने के लिए भाजपा को हरायें

Political desk

दिल्ली में किसान आंदोलन के जरिए केंद्र सरकार के खिलाफ बिगुल बजाने वाले संयुक्त किसान मोर्चा ने अब पश्चिम बंगाल में हलचल मचा रही है। किसान नेता यहां पर भाजपा के खिलाफ माहौल बनाने का काम कर रहे हैं। किसान नेता राकेश टिकैत और योगेंद्र यादव समेत तमाम किसान नेता और सामाजिक कार्यकर्ता पश्चिम बंगाल में सभाएं और जनसंपर्क कर लोगों से भाजपा को हराने की अपील कर रहे हैं। किसान महापंचायतों में उमड़ रही भीड़ से भाजपा हलकान है।

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत शनिवार को पश्चिम बंगाल की सबसे हाईप्रोफाइल विधानसभा सीट नंदीग्राम पहुंचे। नंदीग्राम में किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए टिकैत ने कहा कि उनका अगला टारगेट संसद पर फसल बेचने का होगा। संसद में मंडी खुलेगी। पीएम ने कहा है कि मंडी के बाहर कहीं भी अपने उत्पाद बेच लो। उन्होंने कहा कि दिल्ली में फिर से ट्रैक्टरों की एंट्री होगी। किसी की मजाल नहीं है कि वह ट्रैक्टर रुक ले। 3.5 लाख ट्रैक्टर और 25 लाख किसान तैयार हैं।

पूर्वांचल में गरजे टिकैत, कहा – खेत बचाने के लिए घरों से निकलें किसान

नंदीग्राम में राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक कानून वापस नहीं होगा और बंगाल के किसानों को जब तक एमएसपी पर रेट नहीं मिलेगा। तब तक दिल्ली बॉर्डर से किसान नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने देश को लूट लिया है। अपने बंगाल को बचाने के लिए भाजपा वोट नहीं करना। यदि कोई वोट मांगने आए तो उनसे पूछना कि हमारा एमएसपी कब मिलेगा?

नंदी ग्राम से पहले कोलकोता में किसान महापंचायत हुई। यहां पर भी राकेश टिकैत ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार खेल यह है कि बड़ी बड़ी कंपनी आएंगी, वो समुद्र से मछली पकड़ने आएंगी। तलाब यहां खत्म हो जाएंगे। यह सरकार कुछ बड़े व्यापारियों और कंपनियों के लिए काम कर रही है। भाजपा से देश को ख़तरा है।

इसके बाद टिकैत और अन्य किसान नेताओं ने भवानीपोरा में किसान महापंचायत की। संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में आज सिंगुर और आसनसोल में महापंचायत हुई। सभी पंचायतों में लोगों की भीड़ उमड़ रही है। किसान नेताओं की अपील लोगों में असर करती दिख रही है। इससे एक तरफ जहां किसान नेताओं का उत्साह बढ़ रहा है, वहीं भाजपा के रणनीतिकारों की चिंताओं में भी इजाफा हो रहा है।

अब किसान नेता पश्चिम बंगाल के किसानों को भाजपा के खिलाफ कितना जगा पाते हैं, यह तो समय बताएगा, लेकिन भाजपा सकते में आ गई है। योगेंद्र यादव का कहना है कि हम सिर्फ भाजपा को हराने की अपील कर रहे हैं। हमारी अपील कारगर होगी और पश्चिम बंगाल के लोग विधानसभा चुनाव में भाजपा को सबक सिखाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button