West Bengal में क्यों हारी बीजेपी, शुभेंदु अधिकारी ने किया ये चौंकाने वाला खुलासा

इसके साथ ही बीजेपी को 200 प्लस सीटें हासिल होंगी। हालांकि बीजेपी के सभी दावे धरे के धरे रह गए। 2 मई को जब परिणाम सामने आया तो एक बार फिर से ममता बनर्जी के नेतृत्व में तृणमूल कांग्रेस की सरकार बन गई।

कोलकाता।। पश्चिम बंगाल (West Bengal) विधानसभा चुनाव में बीजेपी की करारी हार को लेकर नंदीग्राम से विधायक और पार्टी नेता शुभेंदु अधिकारी का बड़ा बयान सामने आया है। दरअसल, शुभेंदु अधिकारी ने बताया है कि आखिरी बीजेपी की हार क्यों हुई। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बीजेपी के कई नेताओं के अति आत्मविश्वास की वजह से पार्टी की हार हुई है। क्योंकि नेताओं को लगता था कि यहां पर बीजेपी की 170 से ज्यादा सीटें आएंगी।

shubhendu - West Bengal

200 सीटें जीतने का किया था दावा–

आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव (West Bengal) के दौरान बीजेपी नेताओं ने दावा किया था कि 2 मई के नतीजों में बीजेपी प्रदेश की सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरेगी। इसके साथ ही बीजेपी को 200 प्लस सीटें हासिल होंगी। हालांकि बीजेपी के सभी दावे धरे के धरे रह गए। 2 मई को जब परिणाम सामने आया तो एक बार फिर से ममता बनर्जी के नेतृत्व में तृणमूल कांग्रेस की सरकार बन गई।

पूर्वी मेदिनीपुर (West Bengal) के चांदीपुर इलाके में रविवार को बीजेपी की बैठक हुई। इस बैठक में शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि कई नेताओं के अति आत्मविश्वास की वजह से जमीनी हकीकत को समझने में नाकामयाब रहे। हमने शुरुआती दो चरणों में अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन फिर हमारे कई नेता अति आत्मविश्वास में खो गए।

उन्होंने कहा कि नेताओं ने मानना शुरू कर दिया कि विधानसभा चुनाव (West Bengal) में बीजेपी को 170-180 सीटें मिलने वाली हैं और उन्होंने काम करना छोड़ दिया। जो काफी मंहगा पड़ा। उल्लेखनीय है कि बंगाल विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को 213 सीटों पर जीत हासिल हुई। जबकि बीजेपी के खाते में 77 सीटें गईं।

उत्तराखंड- BJP 2022 में 60 सीटें जीतकर फिर बनाएगी सरकार!
बिहार विधानसभा चुनाव: सभी 243 सीटों के परिणाम घोषित, एनडीए को मिला पूर्ण बहुमत

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button