विधानभवन के सामने महिला ने की आत्मदाह की कोशिश, पुलिसकर्मियों ने बचाई जान

यह पहला मौका नहीं है जब विधान भवन के सामने आत्मदाह का प्रयास किया गया। इसके पहले भी कई बार इस तरह की कोशिशें होती रही हैं।

लखनऊ।। राजधानी में विधानभवन के सामने एक बार फिर आत्‍मदाह का प्रयास किया गया। विधान भवन के गेट नम्बर 5 के सामने महिला ने आत्मदाह का प्रयास किया। हालांकि मौके पर तैनात पुलिस कर्मियों ने महिला को बचा लिया।

महिला सुलतानपुर के भवानीपुर की रहने वाली है। उसने आरोप लगाया कि सुलतानपुर में स्थानीय थाने में दुष्कर्म की एफआईआर दर्ज कराने के बाद भी आरोपित के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसे लेकर वह काफी क्षुब्‍ध है। प्रभारी निरीक्षक थाना हुसैनगंज ने बताया कि महिला पूरी तरह सुरक्षित है। वह ज्वलनशील पदार्थ अपने साथ लेकर पहुंची थी। मौके पर पुलिसकर्मियों ने उसे बचा लिया। आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।

यह पहला मौका नहीं है जब विधान भवन के सामने आत्मदाह का प्रयास किया गया। इसके पहले भी कई बार इस तरह की कोशिशें होती रही हैं। इसे देखते हुए विधान भवन के सामने सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गई है। विधानभवन के पास पुलिस बूथ भी बनाया गया है, जिससे इस तरह की किसी भी घटना को रोका जा सके।

इससे पहले हरदोई के पांच लोगों उमेश यादव, राजाराम, वीरू यादव, उषा देवी और माया ने लोकभवन के सामने आत्मदाह का प्रयास किया। इन लोगों ने यहां खुद को जलाने की कोशिश की। सभी को एक साथ तेल उड़ेलता देख पुलिस ने दौड़कर पकड़ा और समय रहते बचा लिया। इन्होंने आरोप लगाया कि वह जिस मकान में वह 40 साल से रहते हैं। उस पर कुछ लोग कब्जा करना चाहते हैं।

वहीं कन्नौज जनपद के एक युवक उमाशंकर ने भी आत्मदाह की कोशिश की थी। युवक ने लेखपाल और ग्राम प्रधान पर उसकी जमीन पर किसी अन्य को कब्जा दिलाने का आरोप लगाया था। जिसकी जान बचाते हुए पुलिसकर्मियों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया था। युवक 30 फीसदी तक जल गया था। इससे पहले भी इस तरह के कई मामले सामने आ चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button