यूपी में 35 घंटे का Corona Curfew, आवश्यक सेवाओं को छोड़ सब बंद, सड़कों पर सन्नाटा

orona Curfew के दौरान कोरोना से जंग में सीधा संबंध रखने वाली औद्योगिक गतिविधियां जारी हैं। इस आशय का स्पष्ट निर्देश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को ही दिया था।

Lucknow कोरोना महामारी पर नियंत्रण को लेकर शनिवार रात आठ बजे से सोमवार सुबह 7 बजे तक उत्तर प्रदेश में Corona Curfew लगाया गया हैं। इस आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सब कुछ बंद है। कर्फ्यू के दौरान ब्रेक द चेन अभियान के तहत बड़े पैमाने पर सैनिटाइजेशन अभियान भी चलाया जा रहा है। Corona Curfew और भय के चलते लोग घरों में दुबके हैं। हालांकि आज होने वाली विभिन्न परीक्षाओं में परीक्षार्थियों को उनके प्रवेश पत्र के आधार पर आने-जाने की अनुमति दी गई है।

Corona Curfew के दौरान कोरोना से जंग में सीधा संबंध रखने वाली औद्योगिक गतिविधियां जारी हैं। इस आशय का स्पष्ट निर्देश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को ही दिया था। इसी तरह परिवहन बस 50 फीसदी क्षमता के साथ चल रही हैं। हालांकि सड़कों पर सन्नाटा ही नजर आ रहा है। Corona Curfew के दौरान अंतिम संस्कार के लिए 20 लोगों से ज्यादा की अनुमति नहीं है।

इसी तरह रविवार को होने वाली विभिन्न परीक्षाओं में छात्रों को उनके प्रवेश पत्र के आधार पर आने-जाने की अनुमति दी जा रही है। हालांकि परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्रों तक पहुँचने में मुश्किलों का सामना करना पड़ा है। इसके अलावा Corona Curfew के दौरान शहरों में व्यापक सैनिटाइजेशन अभियान चलाया जा रहा है।

Corona संक्रमण के बढ़ते मामलों और राजधानी लखनऊ समेत पुरे प्रदेश से आ रही मौतों की ख़बरों से लोग सहमे हुए हैं। अपने-अपने घरों में कैद लोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए परंपरागत देशी तरीकों का इस्तेमाल कर रहे हैं। इस बीच खबर है कि कोरोना की दूसरी लहर से निपटने के लिए यूपी सरकार ने दो अरब 25 करोड़ की राशि आवंटित की है, जो अलग-अलग मदों में खर्च होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button