पाकिस्तान की खुली एक और पोल, 60 हिंदुओं के साथ जो किया वो रौंगटे खड़े कर देने वाला था

पाकिस्तान के सिंध प्रांत के मीरपुर और मीठी इलाके में जबरन तरीके से हिंदुओं को धर्म बदलवाया जा रहा है। हिंदुओं को बैठाकर मौलवी कलमा (इस्लाम की शपथ) पढ़ा रहा है और हिंदुओं का चेहरा उतरा हुआ है।

इस्लामाबाद।। पाकिस्तान से एक बार फिर धर्मांतरण का मामला सामने आया है। पाकिस्तान में धर्मांतरण के मुद्दे थमने का नाम नहीं ले रहा है। आज का यह ताजा मामला सिंध प्रांत का है। यहां पर करीब 60 हिंदुओं को एक साथ इस्लाम कबूल करवाया गया है। इस धर्म परिवर्तन का वीडियो भी सामने आया है।

पाकिस्तान के सिंध प्रांत के मीरपुर और मीठी इलाके में जबरन तरीके से हिंदुओं को धर्म बदलवाया जा रहा है। हिंदुओं को बैठाकर मौलवी कलमा (इस्लाम की शपथ) पढ़ा रहा है और हिंदुओं का चेहरा उतरा हुआ है। जिसका वीडियो भी वायरल हुआ है।

बताया जा रहा है यह वीडियो 7 जुलाई 2021 का बताया जा रहा है। पाकिस्तान के सिंध के मतली नगर समिति के अध्यक्ष अब्दुल रऊफ निजामनी ने अपने फेसबुक प्रोफाइल पर ये वीडियो शेयर किया है। वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा है कि “अल्हम्दुलिल्लाह आज मेरी निगरानी में 60 लोग मुसलमान हुए हैं, इनके लिए दुआ करें।”

धर्मांतरण कराने में मियां मिट्ठू का हाथ–

बड़े पैमाने पर हुए इस धर्म परिवर्तन के पीछे सिंध के कुख्यात मौलवी मियां मिट्ठू और अब्दुल रऊफ निजामनी का हाथ बताया जा रहा है। बता दें कि मिया मिट्ठू पाकिस्तान में हिंदू लड़कियों के अपहरण और जबरन इस्लाम धर्म कबूल करवाने  के लिए कुख्यात है। इससे पहले भी मियां मिट्ठू पाकिस्तान में गरीब हिंदू लड़कियों को टारगेट कर धर्मांतरण करवा चुका है।

भारत के पक्ष में आवाज उठाने वाले डॉ वंजारा ने इसपर किया कटाक्ष–

पाकिस्तान में हिंदुओं पर अत्याचार और प्रताड़ना के खिलाफ आवाज उठाते आ रहे कराची के डॉ. राजकुमार वंजारा ने एक साथ इतने लोगों के धर्म परिवर्तन पर कटाक्ष किया है। उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर लिखा “सभी को बधाई, चिंता न करें पाकिस्तान बहुत जल्द सौ फीसदी मुस्लिम देश बनने जा रहा है।

आज 60 हिंदू धर्मांतरित हुए। उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तान में अब धर्म परिवर्तन का मुद्दा आम हो गया है। धर्म परिवर्तन कराने वालों के खिलाफ यहां कोई सख्ती नहीं होती। वह दिन दूर नहीं जब यहां एक भी हिंदू नहीं बचेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button