राहुल को जावड़ेकर की नसीहत, कहा-‘संवैधानिक संस्थाओं का आदर करना सीखें’, नहीं तो…

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के रक्षा मामलों की संसदीय समिति की बैठक से वॉकआउट करने को लेकर भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावड़ेकर ने उन्हें नसीहत दी है।

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी के रक्षा मामलों की संसदीय समिति की बैठक से वॉकआउट करने को लेकर भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावड़ेकर ने उन्हें नसीहत दी है। जावड़ेकर ने कहा है कि राहुल को संवैधानिक संस्थानों का आदर करना सीखना चाहिए, नहीं तो लोकतंत्र में उनकी भूमिका नगण्य होती जाएगी।

Rahul and Javadekar

प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को कहा कि राहुल गांधी के मन में संवैधानिक संस्थाओं के प्रति कोई आदर नहीं है और इसी कारण उन्होंने संसदीय समिति की बैठक का बहिष्कार किया। उन्होंने यह भी कहा कि राहुल गांधी को इस बात का भी ज्ञान नहीं है कि सालभर में कौन-कौन से विषय समिति के सामने रखे जाएंगे इसके निर्धारण के लिए भी बैठक होती है। हालांकि अधिकतर बैठकों से गायब रहने वाले को इसकी जानकारी नहीं रहती।

सिर्फ दो बैठकों में उपस्थित रहे राहुल

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पिछले डेढ़ साल में समिति की 14 बैठकें हुई, जिसमें से सिर्फ दो बैठकों में वह उपस्थित रहे। वहीं वर्ष के लिए एजेंडा-सेटिंग बैठक में भी वह मौजूद नहीं थे। ऐसे में अचानक एक बैठक में शामिल होकर राहुल कहते हैं कि महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा नहीं हो रही और फिर वो बैठक का बहिष्कार करते हैं। ये सांसदीय प्रणाली और संवैधानिक संस्थाओं का अपमान है।

जावड़ेकर ने कहा कि राहुल संवैधानिक संस्थाओं का किताना आदर करते हैं यह सबको पता है। जब यूपीए शासन के दौरान राहुल गांधी सत्ता में थे, तब उन्होंने कैबिनेट के फैसले को फाड़ दिया था और उसे कूड़ेदान में फेंक दिया था। ऐसी और भी कई मौके हैं जब संवैधानिक प्रक्रियाओं के लिए उनका सम्मान देखने को मिला है।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीते दिन बुधवार को रक्षा मामलों की संसदीय समिति की बैठक का वॉकआउट किया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों के बजाय सेना के जवानों की वर्दी पर चर्चा कर पैनल का समय बर्बाद किया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button